कच्चे तेल की कीमतों में वृद्धि से रुपये में रिकॉर्ड गिरावट

कच्चे तेल की ऊंची कीमत और घरेलू ऋण दरों में बढ़ोतरी की आशंका के चलते भारतीय रुपया बुधवार को 73 रुपये प्रति डॉलर के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया.

भारतीय रुपया बुधवार सुबह 18 सितंबर के अपने सबसे निचले स्तर 72.98 रुपये को भी पार करके 73.25 प्रति अमेरिकी डॉलर पर पहुंच गया.

पूर्वाह्न् करीब 11.35 बजे रुपये में थोड़ा सुधार हुआ और यह 73.07 प्रति अमेरिकी डॉलर के स्तर पर पहुंच गया.

आनंद राठी शेयर्स एंड स्टॉक ब्रोकर्स के रिसर्च एनालिस्ट आनंद राठी ने मीडिया को बताया, “कच्चे तेल में लगातार बढ़ोतरी के फलस्वरूप रुपया आज रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गया. कच्चे तेल में वृद्धि और रुपये में भारी गिरावट से आने वाले महीनों में मंहगाई में और बढ़ोतरी हो सकती है.