पीएम मोदी ने सिक्किम के पहले एयरपोर्ट का किया उद्घाटन, जानें एयरपोर्ट की मुख्य बातें

सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिक्किम के पहले पाक्योंग एयरपोर्ट का उद्घाटन किया. पीएम मोदी इसके लिए रविवार शाम ही गंगटोक पहुंच गए थे. दुनिया की सबसे बड़ी हेल्थ सर्विस योजना की शुरुआत करने के बाद पाकयोंग हवाई अड्डा का उद्घाटन किया.

मुख्य बातें

  • आपको बता दें कि पाकयोंग हवाई अड्डा पहाड़ी की चोटी पर बनाया गया है.
  • इस हवाई अड्डे को वर्ष 2009 में मंजूरी मिली थी.
  • यह सिक्किम का पहला और भारत का 100वां एयरपोर्ट है.
  • पाक्योंग एयरपोर्ट समुद्र तल से 4,500 फीट की ऊंचाई पर बना है.
  • यह एयरपोर्ट 206 एकड़ में फैला है. इसमें जियोटेक्निकल इंजिनियरिंग का इस्तेमाल किया गया है.
  • यहां की मिट्टी में एयरपोर्ट की जरूरतों के हिसाब से बदलाव किए गए हैं.
  • भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण अधिकारी के मुताबिक, पाक्योंग हवाई अड्डे का निर्माण लगभग 605 करोड़ रुपये में हुआ.
  • यह एयरपोर्ट भारत-चीन सीमा से तकरीबन 60 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है.
  • गंगटोक से इस हवाई अड्डे की दूरी 33 किलोमीटर है.

पीएम मोदी इसके लिए रविवार शाम ही गंगटोक पहुंच गए थे. प्रधानमंत्री एयरपोर्ट का उद्घाटन करने के लिए सड़क के रास्ते ही कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे. इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री सुरेश प्रभु भी मौजूद रहे. रविवार को सेना के लिबिंग हेलीपैड पर राज्यपाल गंगा प्रसाद और मुख्यमंत्री पवन चामलिंग ने उनका स्वागत किया. सिक्किम पहुंचने पर प्रधानमंत्री ने वहां से कई तस्वीरें भी पोस्ट की. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहले भी कई बार कह चुके है. कि आप देश में जहां भी जाएं तो वहां की खूबसूरती के बारे में लोगों को बताएं.

बता दें कि साल 2009 में इस हवाई अड्डे की आधारशिला रखे जाने के करीब नौ साल बाद सिक्किम का यह सपना पूरा हुआ. यह हवाई अड्डा गंगटोक से करीब 33 किलोमीटर दूर है. श्रीवास्तव ने बताया कि पाकयोंग हवाई अड्डा करीब 605 करोड़ रुपए की लागत से बनाया गया है. और यह भारत-चीन सीमा से करीब 60 किलोमीटर दूर है. उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में मुख्य रनवे के बगल में 75 मीटर लंबी एक अन्य पट्टी के निर्माण के बाद भारतीय वायुसेना इस हवाई अड्डे पर विभिन्न प्रकार के विमान उतार सकेगी. भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने इस हवाई अड्डे का निर्माण किया. अभी सिक्किम का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा 124 किलोमीटर दूर पश्चिम बंगाल के बागडोगरा में है.