फिल्मकार कल्पना लाजमी का निधन, बॉलीवुड में शोक की लहर

‘रूदाली’, ‘एक पल’, ‘दमन’ और ‘चिंगारी’ जैसी महिला प्रधान फिल्मों के लिए लोकप्रिय फिल्मकार और पटकथा लेखक कल्पना लाजमी का रविवार को निधन हो गया। वह 64 वर्ष की थीं. वह दिग्गज कलाकार गुरु दत्त की भतीजी थीं.

कल्पना के शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था. फिल्मकार की प्रवक्ता पारुल चावला ने मीडिया को बताया,”आपको बताते हुए बहुत दुख हो रहा है कि कल्पना लाजमी का आज सुबह 4.30 बजे निधन हो गया.”

प्रवक्ता ने कहा कि लाजमी ने कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में अंतिम सांस लीं, वह किडनी संबंधित समस्याओं के कारण मंगलवार से आईसीयू में थीं.

लाजमी वर्षो से डायलिसिस पर थीं और उन्होंने पिछले साल साक्षात्कार में कहा था, “मेरी किडनी ने काम करना बंद कर दिया है, पर मैंने नहीं.”

कल्पना ने ‘एक पल’ से फीचर फिल्म डायरेक्टर के रूप में डेब्यू किया था. उन्होंने निर्देशक के तौर पर अपना डेब्यू 1978 की डॉक्यूमेंट्री के साथ किया था.

निर्देशक के तौर पर उनकी पहली फिल्म ‘एक पल’ थी. उनकी आखिरी फिल्म ‘चिंगारी’ थी, जो दिवंगत भूपेन हजारिका के उपन्यास ‘द प्रोस्टीट्यूट एंड द पोस्टमैन’ पर आधारित थी.

उनका मेमोयर ‘भूपेन हजारिका : एज आई न्यू हिम’ को इस साल के शुरुआत में ही लॉन्च किया गया था.

इसे 8 सितंबर को बेनेगल और लाजमी की मां एवं चित्रकार ललिता लाजमी ने लॉन्च किया था.

उस समय फिल्म निर्माता, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था, इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके क्योंकि उनके डॉक्टरों ने उन्हें लंबी यात्रा करने से मना कर दिया था.

लाजमी की फिल्मों में महिलाओं के सशक्त किरदार गढ़े गए, जिनमें 1993 की डिंपल कपाड़िया की ‘रूदाली’ भी है, जिसे 66वें ऑस्कर के लिए चुना गया था.

उनके निर्देशन में बनी फिल्म ‘दमन’ में मुख्य किरदार निभा चुकी रवीना टंडन ने लाजमी के निधन पर शोक जताते हुए कहा,”आप बहुत याद आएंगी कल्पनाजी. आपके जाने का समय नहीं था, भगवान आपकी आत्मा को शांति दे. दमन के दौरान शूटिंग के वे दिन बहुमूल्य यादें हैं. ओम शांति.”

अभिनेता विवेक वासवानी अपने दोस्त और सहयोगी की मौत की खबर पर भी काफी दुख में हैं.

फिल्मकार हंसल मेहता ने लाजमी को याद करते हुए कहा, “इस पुरूष प्रधान इंडस्ट्री में एक निडर महिला के रूप में उन्हें हमेशा याद करूंगा. आपकी आत्मी को शांति मिले, कल्पना.”

अभिनेत्री सोनी राजदान ने कहा, “हमारी प्यारी दोस्त कल्पना लाजमी एक बेहतर जगह चली गईं हैं. मेरी प्यारी कल्पना की आत्मा को शांति मिले. मैं तुम्हें बहुत याद करूंगी.”

अभिनेत्री हुमा कुरैशी ने कहा कि वह इस खबर से बेहद दुखी हैं.