नन दुष्कर्म : कोर्ट ने बिशप को जमानत देने से किया इनकार, दो दिनों की पुलिस हिरासत में भेजा

नन दुष्कर्म मामले में आरोपी बिशप फ्रैंको मुलक्कल को केरल की एक अदालत ने शनिवार को जमानत देने से इनकार कर दिया और उन्हें दो दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया. पुलिस अधिकारी ने कहा कि बिशप को सोमवार तक कोट्टायम पुलिस क्लब में रखा जाएगा.

पंजाब के जालंधर के रोमन कैथोलिक डायोसिस के बिशप मुलक्कल को शुक्रवार को त्रिपुनिथुरा से गिरफ्तार किया गया था. इससे पहले उनसे लगातार तीन दिनों तक पूछताछ की गई थी.

एक नन ने बिशप पर 2014 से 2016 तक उसका लगातार यौन शोषण करने का आरोप लगाया है. बिशप के वकील ने अदालत को बताया कि उनके मुवक्किल के खून और लार के नमूने जबरदस्ती लिए गए.

पुलिस ने कहा कि मुलक्कल को कॉन्वेंट ले जाया जाएगा, जहां उन्होंने कथित तौर पर नन के साथ दुष्कर्म किया था. वह पौरुष परीक्षण से भी गुजरेंगे.

शनिवार को भीड़ को नियंत्रित करने में पुलिस को खासा मशक्कत करनी पड़ी, क्योंकि भीड़ ने मुलक्कल पर फब्तियां कसनी शुरू कर दी थी. मुलक्कल देश के पहले बिशप हैं, जिन्हें दुष्कर्म के मामले में गिरफ्तार किया गया है.

मुलक्कल को गिरफ्तारी के बाद शुक्रवार को अदालत में पेश किया जाना था, लेकिन उन्होंने त्रिपुनिथुरा से कोट्टायम जाते समय सीने में दर्द की शिकायत की, जिसके बाद उन्हें कोट्टायम मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां वह पूरी रात रहे. उन्हें शनिवार तड़के अस्पताल से छुट्टी दे दी गई और शनिवार दोपहर उन्हें अदालत में पेश किया गया.