ओलांद ने मोदी को चोर कहा, प्रधानमंत्री जवाब दें : राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर तीखा प्रहार करने का सिलसिला जारी रखते हुए शनिवार को कहा कि फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने राफेल सौदे के संदर्भ में उन्हें ‘चोर’ कहा है, इसका उन्हें जवाब देना चाहिए और इस मुद्दे की जांच संयुक्त संसदीय समिति से कराई जाए. ओलांद का बयान आने के एक दिन बाद प्रेसवार्ता में राहुल ने मोदी की चुप्पी पर सवाल उठाया और कहा कि वह स्पष्ट बताएं कि ओलांद ने जो कहा, वह सच है या नहीं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, “पहली बार फ्रांस के एक पूर्व राष्ट्रपति ने हमारे प्रधानमंत्री को चोर कहा है. यह प्रधानमंत्री पद की गरिमा का सवाल है. यह हमारे जवानों और वायुसेना के भविष्य का सवाल है. प्रधानमंत्री के लिए यह बहुत ही जरूरी है कि वह अब ओलांद के बयान को स्वाीकार करें या यह कहें कि ओलांद झूठ बोल रहे हैं और बताएं कि सच क्या है.”

उन्होंने कहा, “मैं इसको लेकर स्तब्ध हूं कि प्रधानमंत्री पूरी तरह चुप हैं. इस मसले पर प्रधानमंत्री के मुंह से एक शब्द नहीं निकला है. यह बयान फ्रांस के राष्ट्रपति (पूर्व) की तरफ से आया है, जिन्होंने हमारे प्रधानमंत्री के साथ बैठक की थी, जहां राफेल सौदा तय हुआ.”

मोदी के खुद को ‘चौकीदार’ बताने का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, “उन्होंने अपने उद्योगपति दोस्त को 30,000 करोड़ रुपये का मुफ्त उपहार दिया है.”

कांग्रेस प्रमुख ने कहा, “लोगों के दिमाग में यह बैठ गया है कि देश का चौकीदार चोर है. उन्हें स्थिति स्पष्ट करनी चाहिए.”