जम्मू एवं कश्मीर : आतंकवादियों ने अपहृत 3 पुलिसकर्मियों की हत्या की

शुक्रवार को जम्मू एवं कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकवादियों ने अपहृत 3 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी. पुलिस सूत्रों ने कहा, “कापरान गांव से सुबह गोलियों से छलनी तीन शव बरामद किए गए. मारे गए पुलिसकर्मियों की पहचान फिरदौस अहमद कुचीई, निसार अहमद दोबी और कुलदीप के रूप में की गई है.”

रिपोर्टो के अनुसार, जिस नागरिक को अगवा किया गया था, उसे सुरक्षित छोड़ दिया गया. कापरान और बाटगुंड गांवों से गुरुवार रात को इन चारों को अगवा किया गया था.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, मृतक विशेष पुलिस अधिकारी (एसपीओ) थे. आतंकवादी लगातार एसपीओ को अपनी नौकरी छोड़ने या खामियाजा भुगतने की धमकी देते रहे हैं.

बता दें कि पिछले कुछ समय से आतंकी, सेना के जवानों और पुलिसकर्मियों को अपना निशाना बना रहे हैं. आतंकियों ने पिछले दिनों पुलिस कर्मियों के करीब 10 परिजनों को भी अगवा कर लिया था. हालांकि बाद में उनके छूटने की भी खबर आई थी. इससे पहले हिजबुल ने धमकी दी थी कि अगर सरकारी कर्मचारी और सुरक्षा बलों के लोग चार दिन के भीतर इस्तीफा नहीं देंगे, तो उन्हें इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

आपको बता दें कि अगवा किए गए एक कॉन्सटेबल के भाई को आतंकियों ने फिलहाल छोड़ दिया है. सूत्रों की मानें तो जम्मू-कश्मीर में आतंकी लगातार जवानों पर नौकरी छोड़ने का दबाव बना रहे हैं. हिज्बुल मुजाहिद्दीन संगठन ने कश्मीर के पुलिस वालों को एक अनोखा फरमान सुना दिया है. हिज्बुल ने कहा कि सभी कश्मीरी पुलिसवालों को 4 दिन के अंदर अपना इस्तीफा देना होगा.