व्हॉट्सएप बैन कर सकती है भारत सरकार, कर रही तैयारी

फर्जी खबरों के लेकर भारत सरकार और व्हॉट्सएप के बीच मतभेद चल रहे हैं. भारत सरकार ने व्हॉट्सएप से मैसेज ट्रैक करने की अनुमति मांगी थी लेकिन प्राइवेसी का हवाला देते हुए व्हॉट्सएप ने ऐसा करने से मना कर दिया. अब सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) मंत्रालय व्हॉट्सएप को तीसरा नोटिस भेजने पर विचार कर रहा है.

जुलाई के बाद से यह तीसरा आधिकारिक पत्र होगा. इस पत्र के जरिए सरकार फेसबुक की स्वामित्व वाली कंपनी को याद दिलाने की कोशिश करेगी की उन्हें सरकार की मांग पूरी करनी होगी नहीं तो देश में उन्हें बैन कर दिया जाएगा. इन मांगों में अहम मांग यही है कि मैसेज की उत्पत्ति की जानकारी निकालने की अनुमति मिले.

बता दें कि व्हॉट्सएप  ने सरकार की इन मांगों को ध्यान में रखते हुए कई और बदलाव किए है, जिससे फेक न्यूज न फैलें इसके लिए कंपनी ने एक खबर के लिए सिर्फ पांच ही ग्रुप में भेज सकते है और इससे पहले एक बार में 250 मेसेज भेज सकते है।भारत में व्हॉट्सएप के 1.5 बिलियन ऐक्टिव यूजर्स है.

व्हॉट्सएप अपने ऐप में कई नए फीचर्स एड करने के तैयारी कर रही है, जिसमें पेमेंट प्लैटफॉर्म और ऐडवर्टाइजर्स शामिल है. सरकार व्हॉट्सएप को पहले ही दो नोटिस भेज चुकी है. दूसरे नोटिस में कंपनी को चेतावनी दी गई थी कि उसे उकसाने वाला समझा जाएगा और यदि वह मूकदर्शक बनी रहती है तो उसे कानूनी नतीजे भुगतने होंगे.