हिंदू राष्‍ट्र में मुसलमान नहीं रहेंगे तो हिंदुत्‍व नहीं बचेगा – RSS प्रमुख मोहन भागवत

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सर संघचालक मोहन भागवत-फाइल फोटो

नई दिल्ली के विज्ञान भवन में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की तीन दिवसीय मंथन शिविर जारी है. मोहन भागवत ने कार्यक्रम में आए लोगों को संबोधित किया और अलग-अलग मसलों पर संघ की राय भी रखी.

साथ ही उन्होंने भविष्य का भारत कैसा हो इस विषय पर भी अपने विचार रखे. मोहन भागवत ने कहा कि हम हिंदू राष्ट्र में विश्वास रखते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम मुसलमानों के खिलाफ हैं.

अगर ये कहें कि इस देश में मुसलमान नहीं रहेंगे, तो ये हिंदुत्व नहीं होगा. हम कहते हैं हमारा हिंदू राष्‍ट्र है, लेकिन इसका मतलब कताई नहीं है कि राष्ट्र में मुसलमान नहीं चाहिए. उन्होंने कहा कि जिस दिन ऐसा कहा जाएगा तो उस दिन वो हिंदुत्‍व नहीं रहेगा.

हिंदुत्व संघ का विचार है, संघ ने नही खोजा, देश में चलता आया विचार है. हिंदुत्व मूल्य समुच्चय का नाम है. उन्होंने कहा कि विविधता में एकता, भारत एक स्वभाव का नाम है.

संघ की राय रखते हुए मोहन भागवत ने कहा कि आरएसएस का राजनीति से कोई लेना-देना नहीं है. हम राष्ट्रनीति से जुड़े मसलों पर पूरी मजबूती से अपनी बात रखते हैं. बता दें कि सोमवार से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के तीन दिवसीय मंथन शिविर का शुभारंभ हुआ. आज इस कार्यक्रम का आखिरी दिन है.