अगस्ता मामले में पूर्व वायुसेना प्रमुख त्यागी को मिली जमानत

अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे में 3600 करोड़ रुपये के घोटाले से जुड़े धनशोधन के एक मामले में पूर्व वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल एस.पी.त्यागी और अन्य को यहां एक अदालत ने बुधवार को जमानत दे दी. विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने अपने समक्ष उपस्थित त्यागी व अन्य से एक लाख रुपये की जमानत राशि व इतनी राशि का मुचलका भरने को कहा.

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हेलीकॉप्टर सौदा मामले में त्यागी, उनके दो चचेरे भाइयों, वकील गौतम खेतान व इटली के कार्लो गेरोसा व गुइडो हश्के सहित 34 लोगों और विदेशी व भारतीय कंपनियों के खिलाफ एक पूरक आरोप पत्र दाखिल किया है.

अगस्ता वेस्टलैंड के पूर्व सीईओ ब्रूनो स्पैग्नोलिनी व इटली की रक्षा एवं एयरोस्पेस कंपनी फिनमेक्के निका के के पूर्व प्रमुख गुइसेप्पे ओरसी और अन्य पर भी मामले में आरोप-पत्र दाखिल किया गया है.

आरोप-पत्र में करीब 2.8 करोड़ यूरो के धनशोधन का उल्लेख किया गया है. इसमें ओरसी, ब्रूनो, त्यागी के चचेरे भाई संजीव त्यागी और राजीव त्यागी के साथ राजीव सक्सेना व उनकी पत्नी शिवानी सक्सेना व खेतान की पत्नी रीतू खेतान के नाम शामिल हैं. राजीव सक्सेना दुबई स्थित कंपनी मैट्रिक्स होल्डिंग्स के निदेशक हैं.