उत्तराखंड : नेता प्रतिपक्ष सहित 8 रिजॉर्ट मालिकों पर दर्ज हुई एफआईआर, वन भूमि पर अवैध कब्जा करने का आरोप

वन विभाग ने वन भूमि पर अतिक्रमण करने के मामले में  उत्तराखंड हाईकोर्ट के निर्देश के अनुसार आठ रिजॉर्टों के प्रबंधन के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है. इसमें उत्तराखंड कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश के रिसॉर्ट और फार्म हाउस  भी शामिल है. इंदिरा  हृदयेश सहित 8 रिजॉर्ट मालिकों पर वन भूमि पर अवैध कब्जा कर रिजॉर्ट निर्माण करने का आरोप है.

जानकारी के अनुसार, नैनीताल  जिले में रामनगर के ढिकुली स्थित हृदयेश होटल, क्लब महिंद्रा, कॉर्बेट काल रिसोर्ट,गेटवे द ताज रिसॉर्ट, अशोक मार्गा और हृदयेश फार्म हाउस के प्रबंधक पर रामनगर कोतवाली में मुकद्दमा दर्ज हुआ है. बता दें कि नैनीताल हाईकोर्ट के निर्देश के बाद वन विभाग की ओर से यह मुकदमा रामनगर कोतवाली में दर्ज करवाया गया है.

वहीं नेता प्रतिपक्ष ने रामनगर स्थित रिजॉर्ट के खिलाफ मुकदमा दर्ज होने के मामले में कहा कि  ‘किसी भी तरह का कोई नोटिस दिए बिना हृदयेश रिजॉर्ट के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज किया गया है. मुकदमा नियम विरुद्ध दर्ज किया गया है. मुकदमा दर्ज करने का कोई अधिकार नहीं था और एकतरफा कार्रवाई की गई है.’

उन्होंने सारे काम नियमों के अनुसार किए हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोगों को यहां पर्यटन अच्छा चलने पर परेशानी हो रही है. कोर्ट के सामने सारे तथ्यों को पेश किया जाएगा. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि उनकी तरफ से कुछ गलत नहीं किया गया है.