राफेल डील पर वायुसेना प्रमुख ने दिया ये बयान..

राफेल डील ने देश में राजनीतिक हलचल मचा रखी है. राफेल डील कांग्रेस और विपक्षी पार्टियां लगातार अपने हमलों से मोदी सरकार पर निशाना साध रही है. वही भारतीय वायुसेना ने पहली बार इसे लेकर आधिकारिक बयान दिया है.

बुधवार को दिल्ली में एक कार्यक्रम में वायुसेना प्रमुख बिरेंदर सिंह धनोआ ने राफेल डील को बेहतरीन करार दिया है. उन्होंने कहा कि सरकार ने राफेल लड़ाकू विमानों और रूस के एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम एस-400 उपलब्ध कराकर वायुसेना की शक्ति में इजाफा किया है.

धनोआ ने चीन और पाकिस्तान का जिक्र कर राफेल को देश के लिए जरूरी बताया. उन्होंने कहा, केंद्र सरकार आज हमें राफेल लड़ाकू विमान मुहैया करवा रही है. इन विमानों के जरिए वर्तमान की मुश्किलों का सामना कर पाएंगे. उन्होंने कहा कि वायुसेना के पास हथियारों की कमी थी, जो इससे काफी हद तक पूरी की जा सकेगी.

चीफ ने कहा, ‘ भारतीय वायुसेना के पास 42 स्क्वॉड्रन के मुकाबले हमारे पास 31 ही मौजूद हैं. उन्होंने कहा कि 42 की संख्या होने पर भी यह पर्याप्त नहीं होगा.’ उन्होंने कहा, ‘पिछले एक दशक में चीन ने भारत से लगे स्वायत्त क्षेत्र में रोड, रेल और एयरफील्ड का तेजी विस्तार किया है.’ उन्होंने राफेल विमान के केवल दो बेड़ों की खरीद को उचित बताते हुए कहा कि इस तरह के खरीद के उदाहरण पहले भी रहे हैं.