सीएम योगी ने भारत बंद को बताया विपक्ष की हताशा का प्रतीक

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारत बंद को लेकर विपक्ष पर निशाना साधते हुए सोमवार को कहा कि यदि वे इसी तरह नकारात्मक भूमिका अपनाए रहे तो आने वाले दिनों में वे विपक्ष में भी बैठने लायक नहीं बचेंगे और विपक्ष के रूप में उनका महत्व भी खत्म हो जाएगा. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री गोविंद वल्लभ पंत के जयंती समारोह में शामिल होने के बाद यह बात कही.

उन्होंने कहा, “विपक्ष का यह भारत बंद उनकी हताशा और निराशा को दिखाता है. आज जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कल्याणकारी योजनाओं का लाभ गांव, गरीब, महिला, किसान व नौजवानों को मिल रहा है तो इससे निराश विपक्ष से इससे ज्यादा की उम्मीद नहीं की जा सकती. भगवान उनको सद्बुद्घि दें.”

मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष के पास नीति, नेतृत्व व आगामी कार्यो के लिए कोई रणनीति नहीं है, इसलिए वे भारत बंद जैसे नकारात्मक तरीके अपना रहे हैं.

योगी ने कहा, “विपक्ष को चाहिए कि वह सही मायने में विकास के मुद्दे पर सरकार का सहयोगी बने, क्योंकि अगर वे इसी तरह नकारात्मक भूमिका अपनाए रहे तो आने वाले दिनों में वे विपक्ष में बैठने लायक भी नहीं बचेंगे और विपक्ष के रूप में उनका महत्व खत्म हो जाएगा.”

गौरतलब है कि पेट्रोल-डीजल की कीमतों में भारी वृद्धि, बढ़ती महंगाई के विरोध में कांग्रेस ने भारत बंद का आयोजन किया है. इसमें 21 विपक्षी दल, कांग्रेस का साथ दे रहे हैं.