योगी का कुंभ 2019 के प्रचार के लिए स्तरीय फिल्मों के निर्माण का निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूचना विभाग के कार्यो की समीक्षा करते हुए कहा कि सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार के लिए सक्सेज स्टोरी प्रकाशित करवाने का प्रयास किया जाए. उन्होंने साथ ही प्रयाग कुंभ-2019 के प्रचार के लिए स्तरीय और अच्छी फिल्में बनवाने के निर्देश दिए.

शास्त्री भवन में गुरुवार देर रात समीक्षा बैठक के दौरान उन्होंने यह निर्देश जारी किया. इस दौरान उन्होंने इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया, आउटडोर (होर्डिंग्स, एल.ई.डी.) एवं प्रचार साहित्य की विषय वस्तु, क्रिएटिव्स एवं डिजाइन के निर्माण एवं विभिन्न मीडिया में प्रचारित-प्रसारित करने के लिए ‘संवाद’ एजेंसी के गठन के भी निर्देश दिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की उपलब्धियों की सक्सेस स्टोरीज को व्यापक स्तर पर प्रसारित करते हुए यह भी सुनिश्चित किया जाए कि मीडिया में उन्हें स्पेस मिले. उन्होंने कहा कि सक्सेस स्टोरीज का प्रेजेंटेशन उत्कृष्ट होना चाहिए.

मुख्यमंत्री ने कहा कि विभाग को उच्चीकृत करते हुए उपलब्ध तकनीक का सरकार के कार्यक्रमों, योजनाओं इत्यादि के व्यापक प्रचार-प्रसार के लिए सकारात्मक उपयोग किया जाए. उन्होंने राज्य सूचना केंद्र नई दिल्ली के सुदृढ़ीकरण के भी निर्देश दिए.

उन्होंने कहा कि मुंबई सहित देश के अन्य महानगरों में भी उत्तर प्रदेश राज्य सूचना केन्द्र स्थापित किए जाने चाहिए. विभाग द्वारा जारी किये जा रहे ‘क्रिएटिव्स’ और विज्ञापनों को और बेहतर व आकर्षक बनाने के निर्देश दिए.

योगी ने सोशल मीडिया का उल्लेख करते हुए सूचनाओं के व्यापक प्रचार-प्रसार पर बल दिया. उन्होंने कहा कि इस संबंध में आवश्यकतानुसार वाट्सएप ग्रुप बनाए जाएं. राज्यस्तर व जिलास्तर पर इन सोशल मीडिया ग्रुपों से लोगों को जोड़ा जाए. ट्विटर पर शासकीय जानकारी त्वरित रूप से पोस्ट की जाए. उन्होंने जिलास्तर पर सरकार से संबंधित सभी पॉजिटिव और निगेटिव समाचारों का फीडबैक प्राप्त करने के भी निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि जनपदों में तैनात विभागीय अधिकारियों के साथ वे एक बैठक कर फील्ड में किए जा रहे प्रचार-प्रसार संबंधी कार्यो की समीक्षा करेंगे.

बैठक के दौरान अपर मुख्य सचिव सूचना अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा सूचना संकुल के अन्तर्गत जिला सूचना कार्यालय भवन व प्रेस क्लब के निर्माण के लिए गोरखपुर, अयोध्या (फैजाबाद), वाराणसी एवं शाहजहांपुर के लिए 11 करोड़ रुपये के प्रस्ताव स्वीकृत किए गए हैं. छह अन्य जिलों महराजगंज, हरदोई, गौतमबुद्घनगर, गाजियाबाद, बलिया और श्रावस्ती में सूचना संकुल निर्माण के लिए प्रस्ताव प्राप्त हो गए हैं.