भारत में हवाई किराया ऑटो-रिक्शा से भी सस्ता : . केंद्रीय मंत्री

देश का घरेलू विमान किराया प्रति किलोमीटर आधार पर ऑटो रिक्शा से भी सस्ता है. केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा ने मंगलवार को यह बात कही. यहां अंतर्राष्ट्रीय विमानन सम्मेलन में सिन्हा ने कहा, “अगर आप देश के किसी भी बड़े शहर में ऑटोरिक्शा का किराया देखें तो यह करीब 8 से 10 रुपये प्रति किलोमीटर है.. अगर दो लोग ऑटोरिक्शा में सफर कर रहे हैं तो यह एक आदमी पर चार-पांच रुपया प्रति किलोमीटर होता है.”

उन्होंने कहा, “अगर आप समय से पहले विमान का टिकट बुक करते हैं, तो यह चार रुपये प्रति किलोमीटर या उससे भी कम होता है, जोकि दुनिया में सबसे सस्ता है.”

मंत्री ने कहा, “जाहिर है, मैं कम दूरी के लिए विमानों के उपयोग की बात नहीं कह रहा हूं. उसकी तुलना नहीं हो सकती, यह तो केवल यह बताने के लिए है कि हवाई किराया कितना किफायती है.”उन्होंने कहा कि सस्ते किराए से भारत में विमान यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है.

यह पूछे जाने पर ईंधन के उच्च मूल्य और कम किराए को भारतीय विमानन क्षेत्र कितने दिनों तक झेल पाएगा? मंत्री ने कहा कि इस क्षेत्र की विकास दर कोई बुलबुला नहीं है, जो फूट जाएगा. भारत में किराए कम हैं, लेकिन दुनिया में सबसे ज्यादा कम नहीं हैं और टिकटों की कीमत कई चीजों के आधार पर तय की जाती है, जिसमें ईंधन की लागत की प्रमुख भूमिका होती है.

उन्होंने कहा कि अगर ईंधन की कीमतें बढ़ती हैं तो विमान किराए में भी बढ़ोतरी होगी. उन्होंने कहा कि हमने अगले 15 सालों में 100 नए हवाईअड्डे बनाने की योजनाएं बनाई है, जिस पर 60 अरब डॉलर का निवेश किया जाएगा.