जनता की पहली पसंद है पीएम मोदी,राहुल है दूसरे नंबर पर

लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही राजनीति उथल-पुथल तेज हो गई है. सभी पार्टियां अपनी और से जितने के लिए हर संभव कोशिश करने में जुटी गुई है वहीं देश के लोगों की अब भी पहली पसंद नरेन्द्र मोदी ही है यह खुलासा एक ऑनलाइन सर्वेक्षण में हुआ जिसमें 48 प्रतिसत लोगों ने देश को आगे ले जाने के लिए अपने नेता के तौर पर पीएम मोदी पर ही भरोसा जताया है.

वहीं 9.3 प्रतिशत वोट के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, 7 प्रतिशत वोट के साथ उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेख यादव, 4.2 प्रतिशत वोट के साथ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और 4.1 प्रतिशत वोट के साथ बसपा अध्यक्ष मायावती रहीं.

इस सर्वेक्षण में ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, सीपीएम के महासचिव सीताराम येचुरी, एनसीपी प्रमुख शरद पवार और कई अन्य राष्ट्रीय और क्षेत्रीय राजनीतिक चेहरों को जगह दी गई थी.यह सर्वेक्षण किशोर से जुड़ी सिटीजंस फॉर एकाउंटेबल गवर्नेंस की ओर से 2013 में कराए गए सर्वेक्षण के समान है, जिसमें मोदी को देश का सबसे पसंदीदा नेता बताया गया था. आईपैक के सदस्यों का कहना है कि इस सर्वेक्षण का उद्देश्य इंटरनेट तक पहुंच वाली आबादी तक पहुंचना था.

हालांकि, विश्लेषकों का कहना है कि यह ऑनलाइन सर्वे है और इसकी अपनी बंदिशें हैं, क्योंकि देश का एक बड़ा हिस्सा, विशेषतौर पर ग्रामीण भारत का इस तरह के सर्वे में शामिल होना मुश्किल है. 2014 में बीजेपी की सरकार बनने के बाद अचानक चर्चा में आए प्रशांत किशोर को बेहतरीन चुनावी रणनीतिकार के रूप में जाना जाता है.

कौन हैं प्रशांत किशोर?

बता दें कि राजनीतिक हल्कों में प्रशांत किशोर एक बड़ा नाम हैं. 2014 के लोकसभा चुनावों की तैयारी में प्रशांत टीम मोदी का हिस्सा थे. लेकिन 2015 में उन्होंने बिहार में नीतीश कुमार का साथ दिया था. इन दोनों जगह उन्हें जीत हासिल की थी, लेकिन 2017 में उन्होंने सपा-कांग्रेस के साथ काम किया था जहां उन्हें हार मिली थी.