सरकार ने पेट्रो पदार्थ से हुआ 11 लाख करोड़ का फायदा : सुरजेवाला

कांग्रेस ने शुक्रवार को पेट्रो पदार्थो की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि पर नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोला और आरोप लगाया कि तेल पर लगाए गए कर की वजह से सरकार को 11 लाख करोड़ रुपये का फायदा हुआ है. लेकिन सरकार ने देश के लोगों के साथ धोखा किया है.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक बयान में कहा, “मोदी सरकार द्वारा अत्यधिक कर लगाया गया है, जिससे पेट्रोल व डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हुई है.”

उन्होंने कहा कि पेट्रोल व डीजल के दाम पहली बार इतने बढ़े हुए हैं. आम लोगों, मध्यम वर्गीय लोगों, किसानों और छोटे व मध्यम व्यापारियों को इसकी वजह से पीड़ा सहनी पड़ रही है.

सुरजेवाला ने कहा कि जरूरी सामानों की बढ़ी हुई कीमत सभी भारतीयों के बजट को बर्बाद कर रही है.

उन्होंने कहा, “देश के लोग ईंधन लूट के लिए मोदी सरकार को कभी माफ नहीं करेंगे और आने वाले चुनाव में इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे.”

सुरजेवाला ने कहा कि डीजल की कीमत 70.26 प्रति लीटर हो गई है, जिससे किसानों की जिंदगी प्रभावित हो रही है, वहीं दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 78.57 प्रति लीटर पहुंच गई है, जिससे आम लोगों के यातायात व आवाजाही के खर्च पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है.

मुंबई में पेट्रोल की कीमत 86 रुपये प्रति लीटर के पार चली गई है और डीजल की कीमत यहां 74.59 प्रति लीटर तक पहुंच गई है.

उन्होंने कहा, “भाजपा मई 2014 में जब से सत्ता में आई है, पेट्रोल की कीमत में 211.7 प्रतिशत और डीजल की कीमत में 433.06 प्रतिशत की उत्पादन शुल्क (एक्साइज) में वृद्धि हुआ है.”

15 देशों को कम कीमत में पेट्रोल व डीजल को आयात करने पर सरकार पर निशाना साधते हुए सुरजेवाला ने कहा, “भारत में पेट्रोल व डीजल क्रमश: 78-86 रुपये और 70 से 75 रुपये प्रति लीटर की दर पर उपलब्ध है, लेकिन एक आरटीआई अर्जी के जवाब से खुलासा हुआ है कि मोदी सरकार 37 रुपये का नुकसान सहकर 15 देशों को पेट्रोल केवल 34 रुपये प्रति लीटर व डीजल केवल 29 रुपये प्रति लीटर की दर पर दे रही है.”

उन्होंने कहा कि ये देश इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, मलेशिया और इजरायल हैं और इस तरह मोदी सरकार ने भारत के लोगों के साथ धोखा किया है.