पश्चिम बंगाल हिंसा में 3 की मौत, 15 घायल

पश्चिम बंगाल में राज्य पंचायत समितियों के गठन को लेकर राजनीतिक हिंसा में तीन लोगों की मौत हो गई और करीब 15 लोग घायल हो गए.

यह सशस्त्र संघर्ष कथित तौर पर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस व मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के समूहों के बीच उत्तरी 24 परगना जिले के अमदंगा ब्लॉक में मंगलवार देर रात हुआ.

अमदंगा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा, “ब्लॉक के कुछ गांवों में ग्राम पंचायत समिति के गठन को लेकर संघर्ष हुआ.” स्थानीय निवासियों के अनुसार, मृतकों में दो तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता थे, जबकि तीसरा व्यक्ति माकपा से था.

पुलिस ने इलाके में अशांति पैदा करने के लिए माकपा के जिला समिति के सदस्य अहमद खान सहित 12 लोगों को बुधवार की सुबह गिरफ्तार किया है.इनके पास से क्रूड बम, कारतूस पाया गया.

राजनीतिक दलों ने एक दूसरे पर संघर्ष का आरोप लगाया है और दावा किया कि उनके सदस्यों को समिति बनाने से रोका जा रहा है.

बंगाल के विभिन्न जिलों में पंचायत समितियों के गठन के दौरान 25 अगस्त से राजनीति संघर्ष में कथित तौर पर 10 लोगों की हत्या हो चुकी है.पंचायत समितियों के गठन को लेकर बीते कुछ दिनों से कई जिलों में स्थितियां तनावपूर्ण हैं.