मूडीज ने इस साल भारत की आर्थिक विकास दर 7.5 फीसदी रहने का लगाया अनुमान

वैश्विक क्रेडिट रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्वसेस्टर्स सर्विस ने वर्ष 2018 और 2019 में भारत की आर्थिक विकास दर 7.5 फीसदी रहने का अनुमान लगाया है. रेटिंग एजेंसी के अनुसार, 2018 की पहली तिमाही में भारत की आर्थिक विकास दर 7.7 फीसदी रह सकती है.

मूडीज इन्वेस्टर्स सर्विस ने अपनी ग्लोबल मैक्रो आउटलुक : 2018-19 (जिसे अगस्त में अद्यतन किया गया) रिपोर्ट में कहा, “हमारा अनुमान है कि 2018 और 2019 में भारत की आर्थिक विकास दर 7.5 फीसदी रह सकती है. 2018 में आर्थिक गतिविधियों में 7.7 फीसदी की दर से वृद्धि हुई.”

एजेंसी ने कहा, “उच्च आवृत्ति वाले संकेतकों से जाहिर होता है कि दूसरी तिमाही में भी इसी प्रकार की विकास दर रह सकती है. शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों की मांग मजबूत रहने और औद्योगिक गतिविधियों में सुधार से आर्थिक विकास को सहारा मिलेगा.”

रिपोर्ट में कहा गया कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) 2019 में भी अपने सख्त रुख को कायम रख सकता है.

आरबीआई ने जुलाई में प्रमुख ब्याज दर यानी रेपो रेट में पिछले दो महीने में दूसरी बार 25 बेसिस प्वाइंट का इजाफा कर इसे 6.5 फीसदी कर दिया था.