हरिद्वार में रविवार को वाजपेयी का अस्थि विसर्जन

भारतीय जनता पार्टी ने शनिवार को कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां रविवार को हरिद्वार में गंगा में विसर्जित की जाएंगी. हरिद्वार में गंगा में अस्थि-विसर्जन के बाद देश की 100 नदियों में भी वाजपेयी की अस्थियां प्रवाहित की जाएंगी.

भाजपा प्रवक्ता भूपेंद्र यादव ने मीडिया को बताया, “अटल बिहारी वाजपेयी का अस्थि-विसर्जन कल (रविवार) परिवार के सदस्यों द्वारा हरिद्वार में किया जाएगा. पार्टी अध्यक्ष अमित शाह, गृहमंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत इस मौके पर मौजूद रहेंगे.”

उन्होंने कहा, “वे देहरादून के जॉली ग्रांट हवाई अड्डे से सुबह प्रस्थान करेंगे और दोपहर में हरिद्वार में अस्थि-विसर्जन होगा.”

दिवंगत प्रधानमंत्री की याद में सभी राज्यों में 10-15 दिनों तक सामूहिक प्रार्थना सभा का आयोजन किया जाएगा. जिसकी शुरुआत 20 अगस्त को दिल्ली से होगी. इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में शाम चार बजे से छह बजे तक के.डी. जाधव भवन में सभा का आयोजन किया जाएगा, जिसमें सभी दल शामिल होंगे.

यादव ने कहा, “दरअसल, अटलजी का लखनऊ से गहरा लगाव था, इसलिए 23 अगस्त को वहां भी उनकी स्मृति सभा का आयोजन किया जाएगा, जिसमें योगी आदित्यनाथ, राजनाथ सिंह और अटलजी के परिवार के सदस्य शामिल होंगे. उनकी राख उसी दिन गोमती में प्रवाहित की जाएगी.”