अमित शाह पहुचें ममता के गढ़, कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दिखाए काले झंडे

शनिवार को पश्चिम बंगाल युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष अमित शाह को हवाईअड्डे से बाहर आने के बाद काले झंडे दिखाए. वह यहां एक रैली को संबोधित करने आए हैं. मोटर साईकिल सवार युवा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के एक समूह ने शाह के काफिले को नेताजी सुभाष चंद्र बोस अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे से बाहर निकलते ही काले झंडे दिखाए और उनके व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरुद्ध नारे लगाए. पुलिस ने बाद में उन्हें वहां से हटाया.

कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने दावा किया कि भाजपा और पश्चिम बंगाल तृणमूल कांग्रेस के बीच कोई सांठ-गांठ है और उनलोगों ने ‘मोदी-दीदी भाई भाई’ का नारा लगाया. मध्य कोलकाता के मेयो रोड पर शाह की रैली से पहले, तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजंस(एनआरसी) के मसौदे के विरुद्ध निंदा दिवस मनाया.

तृणमूल कांग्रेस के प्रदर्शन पर प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा नेता और केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने ममता बनर्जी व उनकी पार्टी पर राज्य के संस्कृति और बंगाल के युवाओं के भविष्य को बर्बाद करने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा, “राजनीति सही है, लेकिन उनलोगों ने इसे एक बदसूरत खेल बना दिया है. तृणमूल ने 34 वर्षो के वाम शासन को हटाने के नाम पर बंगाल में स्थिति और खराब कर दी है.”

सुप्रियो ने कहा, “ऐसा नहीं होना चाहिए. आज की रैली में भारी भीड़ दिखाती है कि बंगाल के युवा अमित शाहजी के संदेश की प्रतिक्षा कर रहे हैं.”