मध्य एशिया का दौरा करेंगी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज मध्य एशिया के साथ रिश्तों को बेहतर बनाने के भारत के प्रयास के मद्देनजर दो से पांच अगस्त तक कजाखस्तान, किर्गिज रिपब्लिक और उज्बेकिस्तान का दौरा करेंगी.

मंगलवार को इस बात की जानकारी दी गई. विदेश मंत्रालय द्वारा जारी बयान के मुताबिक, सुषमा स्वराज दो-तीन अगस्त को कजाखस्तान, तीन-चार अगस्त को किर्गिज रिपब्लिक और चार-पांच अगस्त को उज्बेकिस्तान में रुकेंगी.

कजाखस्तान के अस्ताना में वह कजाख विदेश मंत्री कैरात अब्द्राखमानोव के साथ द्विपक्षीय बैठक करेंगी और वहां भारतीय समुदाय के साथ बातचीत करेंगी.

बयान में कहा गया, “भारत और कजाखस्तान की रणनीतिक साझेदारी और बहुमुखी संबंध 2015 व 2017 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कजाखस्तान दौरे से मजबूत हुए हैं.”

किर्गिजस्तान के बिशकेक में सुषमा स्वराज किर्गिज विदेश मंत्री इरलान अब्देलदेव से मुलाकात करेंगी और भारतीय समुदाय से बातचीत करेंगी.

मध्य एशिया के अपने तीसरे पड़ाव पर सुषमा स्वराज चार अगस्त को उज्बेकिस्तान के ताशकंद पहुंचेंगी और उज्बेक विदेश मंत्री अब्दुल अजीज कामिलोव के साथ गहर चर्चा करेंगी. बाद में वहां रहने वाले भारतीय समुदाय से बातचीत भी करेंगी.

मंत्रालय के बयान में कहा गया, “मध्य एशिया के तीन देशों की यात्रा इस क्षेत्र के साथ भारत की बढ़ती भागीदारी के अनुरूप हो रही है. यह तीनों देश भारत का विस्तारित पड़ोसी हैं.”

बयान में कहा गया, “यह वैश्विक, क्षेत्रीय और द्विपक्षीय मुद्दों की विस्तृत मामलों पर राजनीतिक नेतृत्व के साथ गहन चर्चा करने का अवसर प्रदान करेगा और मध्य एशियाई क्षेत्र के साथ हमारी बढ़ती भागीदारी को आगे बढ़ाएगा.”