देहरादून : 11 वर्षीय बालिका की दुराचार के बाद निर्मम हत्या, शव को निर्माणाधीन भवन में दफनाया

प्रदेश की अस्थायी राजधानी देहरादून में 11 साल की बच्ची की निर्मम तरीके से हत्या करने का मामला प्रकाश में आया है. मामला सहसपुर के सभावाला का है. जहां 11 वर्षीय बालिका की दुराचार कर हत्या कर दी. पुलिस ने बच्ची का शव बरामद कर लिया है.

आरोपी ने शव को एक इंजीनियरिंग कॉलेज के निर्माणाधीन भवन में दफनाया था. शव को ईंट व कपड़ों के नीचे दबाया हुआ था. सूचना पर एसएसपी निवेदिता कुकरेती सहित पुलिस के अन्य अधिकारियों ने घटना स्थल का निरीक्षण किया. मामले में पुलिस ने तीन लोगों को हिरासत में लिया है.

जानकारी के मुताबिक मध्य प्रदेश से एक परिवार मजदूरी के लिए इंजीनियरिंग कॉलेज आया है. यहां इन दिनों एक भवन का निर्माण चल रहा है. शनिवार सुबह परिवार की 11 साल की बच्ची भवन के पास ही अपने दो छोटे भाई-बहनों के साथ खेल रही थी. कुछ देर बाद वह वहां से अचानक गायब हो गई.परिजनों ने बच्ची को इधर-उधर तलाश किया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया तो परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी.

जिसके बाद बच्ची को कॉलेज में निर्माणाधीन भवन से लगी मजदूरों की बस्ती में तलाश किया गया तो शनिवार देर शाम आसपास के लोगों ने कॉलेज के निर्माणाधीन भवन में बच्ची का शव पड़ा देखा तो उन्होंने पुलिस और परिजनों को इसकी जानकारी दी. शव को कपड़ों व ईंट से छिपाने का प्रयास किया गया था. पूछताछ के आधार पर पुलिस का कहना है कि मैदान में खेलते वक्त कुछ लोग वहां आए और दोनों बच्चों को 10-10 रुपये देकर सामान लाने दुकान भेज दिया. इसके बाद से उन्होंने बड़ी बहन को नहीं देखा. बता दे कि जिस स्थान से बच्ची का शव मिला, वहां रहने वाले तीन लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. बालिका की दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका पर पुलिस ने मौके पर फोरेसिंक टीम को बुलाया. टीम ने मौके से फिंगरप्रिंट सहित अन्य साक्ष्य एकत्रित किए.

एसएसपी ने बताया कि बच्ची का दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका है. शव कब्जे में ले लिया गया है. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही हत्या के कारणों का पता चल पाएगा. बता दे मामले में यदि आरोपी दोषी पाया जाता है तो उसे फांसी की सजा हो सकती है. हाल ही में पॉक्सो एक्ट में किए गए बदलाओं के अनुसार, 12 वर्ष से कम की बच्चियों के दुराचार के बाद हत्या में फांसी की सजा का प्रावधान किया गया है.