पाकिस्तान चुनाव : रुझानों में इमरान खान की पीटीआई पार्टी को बढ़त

इस्लामाबाद|… पाकिस्तान में आम चुनाव समाप्त होने के 15 घंटे बाद भी मतगणना में देरी और हेराफेरी की आशंका जताई जा रही है. शुरुआती रुझानों में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी ने अन्य पार्टियों के मुकाबले 119 सीटों पर स्पष्ट बढ़त हासिल की है.

हालांकि, पीटीआई कार्यकर्ता और समर्थकों ने अंतिम नतीजों से पहले जश्न मनाना शुरू कर दिया है लेकिन पूर्व क्रिकेटर एवं नेता इमरान खान ने जीत को लेकर अभी कोई ट्वीट या बयान जारी नहीं किया है.

इमरान के प्रवक्ता नईमुल हक ने हालांकि ट्वीट कर कहा कि पीटीआई प्रमुख दोपहर दो बजे देश को संबोधित करेगी.

पंजाब प्रांत में 50 फीसदी मतदान केंद्रों के शुरुआती रुझान सामने आए हैं, जिसमें पीएमएल-एन 129 प्रांतीय सीटों पर बढ़त बनाए हुए है और पीटीआी 122 सीटों के साथ कड़ी टक्कर दे रही है.

खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में इमरान खान की पार्टी पीटीआई साफतौर पर बढ़त बनाए हुए है. पीटीआई यहां 64 सीटों पर आगे है जबकि मुत्ताहिदा मजलिस-ए-अमल (एमएमए)12 सीटों पर आगे है.

सिंध में 37 फीसदी मतदान केंद्रों के शुरुआती नतीजों में पीपीपी-पी 75 सीटों के साथ आगे है जबकि पीटीआई 22 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर है.

बलूचिस्तान में बलूचिस्तान अवामी पार्टी (बीएपी) 12 प्रांतीय सीटों पर आगे है जबकि बलूचिस्तान नेशनल पार्टी (बीएनपी) नौ सीटों पर आगे है.

जियो न्यूज के मुताबिक, अवामी नेशनल पार्टी के नेता गुलाम अहमद बिलौर ने पीटीआई के शौकत अली से हार स्वीकार कर ली है.

उन्होंने कहा, “ये नतीजे दिखाते हैं कि इमरान खान खैबर पख्तूनख्वा में लोगों के पसंदीदा नेता हैं. मैं लोकतांत्रिक शख्स हूं और मैं अपनी हार स्वीकार करता हूं.”

विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों में मतगणना जारी है.

पीटीवी न्यूज के मुताबिक, इमरान खान इस्लामाबाद निर्वाचन क्षेत्र में पीएनएल-एन के शाहिद खाकान अब्बासी से आगे हैं.

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के अध्यक्ष शाहबाज शरीफ ने आधीरात को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनकी पार्टी चुनाव के नतीजों को खारिज करती है.

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि पार्टी ने चुनाव में भारी धांधली और अनियमितता की वजह से नतीजों को नकार दिया है.

हालांकि, निर्वाचन आयोग के सलचिव बाबर याकूब ने मतगणना में धांधली की खबरों को सिरे से खारिज कर दिया है.

याकूब ने कहा, “मतगणना प्रणाली में कुछ दिक्कतें आ गई थीं इस वजह से इसमें देरी हो रही है लेकिन मैं यकीन दिलाता हूं कि इसमें कोई धांधली नहीं हुई है और कोई भी नतीजों को प्रभावित नहीं करना चाहता.”