मायावती ने कांग्रेस के साथ तालमेल के लिए रखी ये शर्त

इसी साल मध्‍य प्रदेश, छत्‍तीसगढ़ और राजस्‍थान में होने जा रहे. इन चुनावों के मद्देनजर बसपा सुप्रीमो मायावती ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि इन राज्‍यों में कांग्रेस के साथ तालमेल उसी दशा में हो सकता है जब हमको गठबंधन के तहत सम्‍माजनक सीटें मिलेंगी. ऐसा नहीं होने पर हम अकेले चुनाव लड़ने की तैया‍री कर रहे हैं.

मायावती ने कहा कि कर्नाटक में मुख्यमंत्री के शपथ के दौरान पूरा विपक्ष जिस तरह एक साथ एक मंच पर एकत्र हुआ था। उसके बाद यह कयास लगाये जा रहे थे कि 2019 लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष लामबंद होकर भाजपा को परास्त करेगा। लेकिन गठबंधन के राह में हर दिन नई मुसीबतें आती जा रही हैं।

मायावती ने मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि आज कांशीराम की यह बात बड़ी सटीक बैठती है कि केंद्र में मजबूत नहीं मजबूर सरकार होनी चाहिए, क्योंकि गठबंधन की सरकार पर ज्यादा दबाव होता है और जिम्मेदारी भी अधिक होती है।