फर्जी रेलवे भर्ती अभियान में शामिल 8 गिरफ्तार

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने कथित तौर पर भारतीय रेलवे में फर्जी भर्ती अभियान में शामिल आठ लोगों को गिरफ्तार किया है. यह विभाग की फर्जी वेबसाइट का इस्तेमाल कर भर्ती अभियान चला रहे थे. सीबीआई ने सोमवार को यह जानकारी दी.

आरोपी व्यक्तियों को रविवार को उनके उत्तर प्रदेश के आगरा व लखनऊ, राजस्थान के चोमू व हरियाणा के सोनीपत व दिल्ली के उनके आवासों पर छापेमारी कर गिरफ्तार किया गया. उन्हें सोमवार को सीबीआई की अदालत में पेश किया गया, जिसने उन्हें 26 जुलाई तक के लिए एजेंसी की हिरासत में भेज दिया.

सीबीआई ने सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के प्रावधाओं व आपराधिक साजिश, धोखाधड़ी, जालसाजी के तहत गिरफ्तार लोगों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया है. गिरफ्तार लोगों ने रेलवे रिक्रूटमेंट कंट्रोल बोर्ड के नाम से भर्ती वेबसाइट का इस्तेमाल फर्जी रेलवे भर्ती के लिए किया था.

सीबीआई के एक अधिकारी ने कहा, “अपराधी सरकारी भर्ती एजेंसियों की तरह ही प्रक्रिया का पालन करते थे. आरोपी मुख्य रूप से राजस्थान और अन्य राज्यों से भारतीय रेलवे और अन्य सरकारी संगठनों में समूह सी और डी की नौकरियों की पेशकश के नाम पर उम्मीदवारों को फंसाते थे.”

अधिकारी ने कहा कि उम्मीदवारों को अपने आवेदन फार्म भरने व अपनी योग्यता से जुड़े दस्तावेज, पहचान पत्र व फोटोग्राफ जमा करने का निर्देश दिया गया था. उन्होंने कहा कि इसके बाद उम्मीदवारों को सरकारी अस्पताल में जाकर मेडिकल प्रमाण पत्र लेने का निर्देश दिया गया था.

अधिकारी ने कहा कि हर उम्मीदवार से कथित तौर पर तीन से पांच लाख रुपये की राशि जमा की गई थी.

सीबीआई ने कहा कि उसने बहुत से आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए हैं.