परिवहन कांग्रेस की हड़ताल दूसरे दिन भी जारी, हड़ताल से पूरा उत्तर भारत प्रभावित

शनिवार को भी अखिल भारतीय मोटर परिवहन कांग्रेस का पूरे देश में विरोध प्रदर्शन जारी है. ये विरोध प्रदर्शन पेट्रोल-डीजल पर हो रही लगातार बढ़ोत्तरी और टोल प्लाजा शुल्क पर अनियंत्रण के खिलाफ हो रहा है.

परिवहन कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोत्तरी, टोल कीमतों पर अनियंत्रण, जीएसटी अनुपालन के मुद्दों, ई-वे बिलों और कुछ अन्य मुद्दों के साथ व्यावहारिक समस्याएं के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

वहीं, तमिलनाडु में भी डीजलों की कीमतों में कमी और टोल टैक्स हटाने की मांग कर रहे लॉरी संचालक भी हड़ताल में शामिल है. तमिलनाडु में लगभग तीन लाख ट्रक ने कहीं सामान लाने-ले जाने से इनकार कर दिया है.

इतना ही नहीं, उत्तर भारत में दाल, प्याज और अन्य जरूरी वस्तुओं की सप्लाई करने जा रहे ट्रकों ने भी वापस तमिडनाडु जा रहे हैं. इस हड़ताल से पूरा उत्तर भारत प्रभावित हो रहा है. सरकारी और निजी गोदामों तक उचित खाद्य सामग्रियां नहीं पहुंच पा रही है.

मुंबई में स्थानीय लोगों का कहना है कि हमें कई समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. बच्चों को समय पर स्कूल भेजने पर बहुत मुश्किल हो रही है. बारिश की वजह से स्टेशन और गलियां पानी से भरी हुई हैं और हमें टैक्सी भी नहीं मिल रही है.