महिलाएं गुरुवार को भूलकर भी न करें ये काम, संतान-पति दोनों के जीवन को करता है प्रभावित

शास्त्रों में गुरुवार को महिलाओं को बाल धोने की मनाही गई है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार माहिलाओं की जन्म कुंडली में बृहस्पति पति का कारक होता है. साथ ही बृहस्पति संतान का कारक होता है.

इस प्रकार अकेला बृहस्पति ग्रह संतान और पति दोनों के जीवन को प्रभावित करता है. बृहस्पतिवार को सिर धोना बृहस्पति को कमजोर बनाता है जिससे कि बृहस्पति के शुभ प्रभाव में कमी होती है.

इसी कारण से इस दिन बाल भी नहीं कटवाना चाहिए जिसका असर संतान और पति के जीवन पर पड़ता है. उनकी उन्नति बाधित होती है

इसलिए गुरुवार को नहीं करना चाहिए नेल कटिंग और शेविंग
शास्त्रों में गुरु ग्रह को जीव कहा गया है. जीव मतलब जीवन. जिसका सीधा संबंध व्यक्ति की आयु से है. इसलिए गुरुवार को नेल कटिंग और शेविंग करना गुरु ग्रह को कमजोर करता है. जिससे जीवन शक्ति दुष्प्रभावित होती है. जिस कारण से व्यक्ति की आयु क्षीण होती है.

ये दिन है लक्ष्मी प्राप्ति का इसलिए देवी लक्ष्मी भी होती है प्रभावित
गुरुवार लक्ष्मी-नारायण का दिन होता है. इस दिन लक्ष्मी और नारायण का एक साथ पूजन जीवन में खुशियों की अपार वृद्धि कराने वाला होता है. इस दिन लक्ष्मी और नारायण की एक साथ पूजन करने से पति-पत्नी के बीच कभी दूरिया नहीं आती है. साथ ही धन की वृद्धि होती है.