अगर पाना चाहते है प्रेम विवाह में सफलता, तो राशि अनुसार करें ये उपाय

ज्योतिष शास्त्र में राशि के अनुसार प्रेम विवाह का भी वर्णन मिलता है. प्रेम करना आसान होता है लेकिन अगर प्यार विवाह में न बदले तो निराशा से लाइफ में उलझन ही दिखाई देती है.

लव लाइफ के को वैवाहिक जीवन में बदलने के लिए सभी राशियों के लिए अलग-अलग उपाय बताए गए हैं. नीचे जानिए राशि के अनुसार लव लाइफ में सफलता पाने के उपाय.

मेष-: मेष राशि से संबंधित जातकों को प्रेम विवाह का संबंध सूर्य के कारण बनता है और शनि के कारण टूट जाता है. प्यार को शादी में बदलने एयर प्रेम विवाह को सफल बनाए रखने के लिए आपको रोज सूर्य को जल चढ़ाना चाहिए. साथ ही हर शनिवार को काली वस्तुओं का दान करना चाहिए.

वृष-: वृष राशि के जातकों को प्रेम विवाह का संबंध मंगल के कारण बनता है. और बृहस्पति के कारण टूट जाता है. प्रेम विवाह को सफल बनाये रखने के लिए मंगलवार का उपवास रखें. साथ ही हर बृहस्पतिवार को पीली वस्तुओं का दान करें.

मिथुन-: मिथुन राशि के जातकों को प्रेम विवाह का संबंध शुक्र के ककारण बनता है. इनका लव लाइव मंगल के कारण टूटता है. आपको प्रेम विवाह में सफलता पाने के लिए चांदी का छल्ला धारण करना चाहिए. साथ ही चांदी और सफेद रंग का प्रयोग करना चाहिए. लाल रंग से बचें और मंगलवार को गुड का दान करें.

कर्क-: इनके प्रेम विवाह के सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण भूमिका शनि की होती है. प्रेम विवाह को सफल बनाये रखने के लिए शनि मंत्र का जाप करें. प्रकाश का दान करें. काले रंग से बचें और पीले रंग का प्रयोग करें.

कन्या-: यहाँ प्रेम विवाह कराता है शनि और तोड़ता है मंगल. प्रेम विवाह की सफलता के लिए शनि मंत्र का जाप करें,हल्के नीले रंग का प्रयोग करें. हर मंगलवार को हनुमान जी को सिन्दूर चढाएँ. इस दिन नमक का सेवन न करें.

सिंह-: इनके प्रेम विवाह करवाने में सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण शनि होता है. बुध के कारण सिंह राशि के जातकों का प्रेम संबंध टूटता है. प्रेम विवाह को सफल रखने के लिए हल्के नीले रंग का प्रयोग करें. बुधवार को हरी वस्तुओं का दान करें.

तुला-: यहाँ प्रेम विवाह का सम्बन्ध मंगल के कारण बनता है और बृहस्पति के कारण टूटता है. प्रेम विवाह को सफल बनाये रखने के लिए हनुमान चालीसा का पाठ करें. हर बृहस्पतिवार को केले का दान करें और जल में हल्दी डालकर स्नान करें.

वृश्चिक-: प्रेम विवाह होता है शुक्र के कारण और टूटता है बुध के कारण. शुक्र के मंत्र का जाप करें और हल्की सुगंध का नियमित प्रयोग करें. बुधवार को हरी मूंग का दान करें.

धनु-: यहां प्रेम विवाह मंगल के कारण होता है और शनि के कारण टूट जाता है. ताम्बा धारण करें,गुलाबी रंग का प्रयोग करें, गुड का सेवन करें. शनिवार को काली वस्तुओं का दान करें.

मकर-: मकर राशि के जातकों को प्रेम विवाह में चंद्रमा का विशेष महत्व रहता है. साथ ही प्रेम विवाह में सफलता नहीं मिलने का कारण भी चन्द्रमा ही होता है. चांदी धारण करें, चमकदार सफेद रंग का प्रयोग करें. शिव जी की उपासना करें.

कुंभ-: इनका प्रेम विवाह सूर्य के कारण होता है और अक्सर मंगल के कारण टूट जाता है. सूर्य को जल अर्पित करें,रविवार का उपवास रखें. लाल रंग का प्रयोग न करें, हनुमान जी का दर्शन करते रहें.

मीन-: इनके प्रेम विवाह का संबंध चन्द्रमा के कारण बनता है और बुध के कारण टूट जाता है. शिव जी की उपासना करें, पूर्णिमा का उपवास रखें. हरे रंग से परहेज करें.