पाकिस्तान के 6 नेताओं पर आतंकवादी हमले का खतरा

इस्लामाबाद|…. पाकिस्तान के राष्ट्रीय आतंकवाद रोधी प्राधिकरण (नैक्टा) ने उन छह नेताओं के नाम का खुलासा किया है जिन्हें चुनाव प्रचार के दौरान आतंकवादी निशाना बना सकते हैं.

नैक्टा निदेशक ओबेद फारुख ने सोमवार को सीनेट की स्थाई समिति को संबोधित करते हुए कहा,”इन छह लोगों में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के अध्यक्ष इमरान खान, अवामी नेशनल पार्टी के नेता असफंदियार वाली और अमीर हैदर होती, कौकमी वतन पार्टी के प्रमुख अफताब शेरपाओ, जमियत उलेमा-ए-इस्लाम-फजल के नेता अकरम खान दुर्रानी और हाफिज सईद के बेटे तहला सईद शामिल हैं.”

‘डॉन’ ने फारुख के हवाले से बताया, “इसके अलावा पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के वरिष्ठ नेतृत्व पर भी खतरा है.”

उन्होंने कहा कि नैक्टा ने इन 12 थ्रेट अलर्ट से संघीय प्रांतीय और प्रांतीय गृह मंत्रालयों को फेडरल इंटीरियर और प्रांतीय गृह मंत्रालयों के साथ-सा कानून प्रवर्थन एजेंसियों को वाकिफ करा दिया है.

समिति के चेयरमैन सीनेटर रहमान मलिक ने गृह मंत्रालय को उन लोगों को पूर्ण सुरक्षा प्रदान करने का निर्देश दिया जिन्हें खतरा है.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान चुनाव आयोग के सचिव बाबर याकूब ने समिति को पहले ही सूचित कर दिया था कि 25 जुलाई को होने वाले आम चुनावों के दौरान हिंसा भड़क सकती है इसलिए इस अलर्ट को गंभीरता से लिए जाने की जरूरत है.