अमरनाथ यात्रा 2018 : पहले दिन सिर्फ 1,007 श्रद्धालु ही गुफा मंदिर में दर्शन कर पाए

भारी बारिश के चलते अमरनाथ यात्रा यात्रा रोक दी गई है. प्रशासन ने शुक्रवार को यहां से 856 यात्रियों के एक छोटे से जत्थे को ही आगे बढ़ने की मंजूरी दी.

बालटाल और पहलगाम इन दो आधार शिविरों से आ रही रिपोर्टों से पता चलता है कि शुक्रवार तड़के से ही इन दोनों मार्गो पर बारिश हो रही है.

अधिकारी ने कहा, “बारिश और फिसलन भरे मार्गो की वजह से किसी भी तीर्थयात्री को आगे बढ़ने की मंजूरी नहीं दी गई.” पुलिस ने कहा, “856 यात्रियों का तीसरा जत्था तड़के 6.25 बजे भगवती नगर यात्री निवास से रवाना हुआ.”

अमरनाथ यात्रा गुरुवार को शुरू हुई थी. जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल एन.एन.वोहरा ने भी अमरनाथ की गुफा में ‘प्रथम पूजा’ में हिस्सा लिया. 60 दिवसीय यह यात्रा 26 अगस्त को समाप्त होगी.

एक अधिकारी ने बताया कि बृहस्पतिवार शाम तक केवल 1,007 श्रद्धालु ही पवित्र शिवलिंग के दर्शन कर सके. कड़ी सुरक्षा के बीच जम्मू से करीब 3,000 अमरनाथ यात्रियों का पहला जत्था कल शाम कश्मीर के बालटाल और पहलगाम आधार शिविरों में पहुंच गया था.