पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन, राज्यपाल के खिलाफ कर रहे थे विरोध प्रदर्शन

द्रविड़ मुन्नेड़ कषगम के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. एमके स्टालिन तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित के खिलाफ चेन्नई में विरोध प्रदर्शन कर रहे थे.

पुलिस द्वारा हिरासत में लिए जाने के बाद स्टालिन ने कहा कि राज्यपाल द्वारा संघीय व्यवस्था में हस्तक्षेप के खिलाफ यह विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है.

इससे पहले शुक्रवार को त्रिची में भी विरोध प्रदर्शन के दौरान राज्यपाल को काले झंडे दिखाए गए, जिसमें डीएमके के 192 कार्यकर्ताओं को हिरासत में लिया गया.

डीमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने त्रिची में हुई कार्यकर्ताओं की निंदा की और ट्वीट किया कि मैं डीएमके के नेताओं और कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की निंदा करता हूं, इन कार्यकर्ताओं ने राज्यपाल द्वारा राज्य अधिकारों को गैर लोकतांत्रिक तरीके से वापस लेने के खिलाफ काले झंडे दिखाए.

एमके स्टालिन ने अगले टवीट में लिखा कि केंद्र द्वारा अप्रत्यक्ष आदेश जारी करना राज्य के लिए ठीक नहीं है. डीएमके, राज्य की स्वायत्तता की नीति पर जोर देती है. ट्वीट में उन्होंने आगे लिखा कि डीएमके ऐसी गिरफ्तारियों से डरती नहीं है, यह हमेशा संघर्ष और त्याग करने वाली पार्टी है.