तेजस्वी प्रसाद यादव ने नीतीश को भ्रष्टाचार का ‘धृतराष्ट्र’ बताया

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने शुक्रवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भ्रष्टाचार का धृतराष्ट्र कहा. उन्होंने सरकार पर आरोप लगाया कि अधिकारियों के स्थानातंरण (तबादला ) को लेकर खुली बोली लग रही है.

पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी ने ट्वीट किया, “नीतीश कुमार भ्रष्टाचार के धृतराष्ट्र बने हुए हैं. उनकी नाक के नीचे स्थानांतरण-नियुक्ति के नाम पर भाजपाई मंत्रियों और उनके चहतों ने ‘तबादला मंडी’ में सरेआम अपनी दुकानें सजाकर रेट फिक्स किया हुआ है. एकदम खुल्लम-खुल्ला, जो अधिकारी बोली लगाकर मनपसंद जगह जाएगा, वह क्या लूट नहीं मचाएगा?”

एक अन्य ट्वीट में तेजस्वी ने लिखा, “बिहार में जून महीने में ट्रान्स्फर-पोस्टिंग के नाम पर तबादला इंडस्ट्री मे 200 करोड़ रुपये का अवैध निवेश हो रहा है. खुली बोली लग रही है. सभी मंत्री जान रहे हैं पता नहीं कब कुर्सी बाबू की अंतरात्मा पलटी मार जाए, इसलिए सब तीन साल की अनिवार्यता दरकिनार कर ‘मास लेवल’ पर तबादले कर लूट मचाए हुए हैं.”