खराब मोबाइल नेटवर्क से परेशान लोगों के लिए राहत, सिम के बिना पब्लिक वाई फाई के जरिये कॉल करने की व्यवस्था को मिली हरी झंडी

केंद्र सरकार ने इंटरनेट टेलीफोनी यानी मोबाइल में सिम के बिना पब्लिक वाई फाई के जरिये कॉल करने की व्यवस्था को हरी झंडी दे दी है. जिससे खराब मोबाइल नेटवर्क से परेशान लोगों के लिए राहत मिलेगी. केंद्र सरकार ने इस योजना को मंजूरी दे दी है. सरकार ने इसे दूर संचार कंपनियों को लागू करने के निर्देश दिए हैं.

एक अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक दूर संचार नियामक ट्राई द्वारा सुझाई गई तकनीक इंटरनेट टेलीफोनी में सिम ही नहीं, सिग्नल के बिना भी किसी मोबाइल पर वाई-फाई का प्रयोग कर कॉल की जा सकेगी. मई में टेलीकॉम आयोग ने ट्राई की ओर से की गई इंटरनेट टेलीफोनी की सिफारिश ग्राहकों की सुविधा के मद्देनजर स्वीकार कर ली है.

ट्राई के मुताबिक विशेष रूप से यह सेवा वॉयस कॉल करने के लिए फायदेमंद होगा. मोबाइल फोन में नेटवर्क सिग्नल न हो या खराब हो तब भी आप इस से वॉयस कॉल कर सकेंगे.

टेलीकॉम ऑपरेटर्स और अन्य लाइसेंसी कंपनियां मोबाइल नंबर दे सकेंगी जो बिना सिम के काम करेगा. इस नंबर को एक टेलीफोनी ऐप को डाउनलोड करके चलाया जा सकेगा. यह प्रस्ताव ट्राई ने पिछले साल अक्टूबर में दिया था. इसका मकसद उपभोक्ताओं को खराब नेटवर्क और कॉल ड्रॉप से होने वाली दिक्कतों से राहत दिलाना है. टेलीकॉम आयोग द्वारा मंजूरी के बाद सबसे पहले इसकी शुरुआत रिलायन्स जियो, बीएसएनएल, एयरटेल करेंगे.