उत्तराखंड का लाल नागालैंड आतंकी हमले में शहीद

उत्तराखंड का एक और लाल देश की रक्षा के लिए शहीद हो गया. नैनीताल जनपद के ओखलकांडा विकासखंड के ग्राम भद्रकोट का निवासी मात्र 22 वर्ष की उम्र के जवान योगेश परगाई उर्फ यश 20 मई की रात्रि नागालैंड के सीमावर्ती जखामा क्षेत्र में तैनाती के दौरान पेट्रोलिंग करते हुए नक्सली हमले में गोली लगने से शहीद हो गये हैं.

वे 4 कुमाऊं रेजीमेंट में तैनात थे. उनका परिवार पिछले 2 वर्षों से हल्द्वानी के बिठौरिया नंबर 1, बिष्ट धड़ा तिवाड़ी नगर में रहता है. नेता प्रतिपक्ष डा. इंदिरा हृदयेश सहित कई नेता उनके घर शोक संतप्त परिवार को सांत्वना देने पहुंच रहे हैं. यश पांच भाईयों व तीन बहनों में सबसे छोटे थे

जब वह पांच माह के थे, तभी उनके सिर से पिता चन्द्र सिंह परगाई का साया उठ गया था. वह 2014 में 12वीं कक्षा उत्तीर्ण करके ही सेना में भर्ती हो गए थे. उनके शव शुक्रवार तक हल्द्वानी स्थित आवास पर पहुँचने की संभावना है.