बिहार : लालू परिवार की मुश्किलें बढ़ीं, ईडी ने निर्माणाधीन मॉल किया सील

लालू प्रसाद यादव-फाइल फोटो

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद और उनके परिवार की मुश्किलें बढ़ाते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मंगलवार को पटना के दानापुर के खगौल में लालू के पुत्र और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के निर्माणाधीन मॉल को सील कर दिया. प्रवर्तन निदेशालय की एक टीम मंगलवार को निर्माण स्थल पहुंची और बन रहे मॉल को सील कर दिया और नोटिस चस्पा कर दिया.

करीब 750 करोड़ रुपये की लागत से 115 कट्ठे जमीन में बन रहा यह मॉल बिहार का सबसे बड़ा मॉल बताया जा रहा था. केंद्र सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने इस मॉल के निर्माण पर पहले ही रोक लगा दी है.

गौरतलब है कि इस मॉल की जमीन को लेकर भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया था यह जमीन लालू के रेलमंत्री रहते आईआरसीटीसी के दो होटलों के लीज पर देने के एवज में एक मुखौटा कंपनी को दी गई थी.

फिलहाल यह जमीन पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव और छोटे पुत्र तेजस्वी यादव के नाम पर है. मोदी ने आरोप लगाया था कि इस जमीन का सर्किल रेट 44.7 करोड़ रुपये है, लेकिन इसे लालू प्रसाद की कंपनी लारा प्रोजेक्ट ने वर्ष 2005-6 में महज 65 लाख रुपये में खरीदी थी.

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पिछले साल जुलाई में लालू प्रसाद और उनसे जुड़े लोगों के पटना और दिल्ली स्थित ठिकानों पर एक साथ छापेमारी की थी और आईआरसीटीसी के रांची और पुरी स्थित होटलों को लीज पर देने में भ्रष्टाचार का मामला दर्ज किया था. इस मामले को लेकर लालू परिवार के कई लोगों सहित प्रेमचंद गुप्ता और उनकी पत्नी से भी सीबीआई पूछताछ कर चुकी है.