उपेंद्र कुशवाहा ने महागठबंधन में शामिल होने का तेजस्वी का प्रस्ताव ठुकराया

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव के महागठबंधन में शामिल होने के निमंत्रण को ठुकराते हुए कहा कि राजद की जमीन खिसक रही है, इसलिए वे हमें निमंत्रण दे रहे हैं. उन्होंने दावा करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ही अगली बार प्रधानमंत्री बनेंगे.

पटना में रविवार शाम आयोजित दावत-ए-इफ्तार में रालोसपा प्रमुख ने कहा,”राजद पहले अपना कुनबा संभाले, उन्हें मेरी इज्जत की चिंता क्यों हो रही है?” उन्होंने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में किसी प्रकार के मतभेद से इनकार करते हुए कहा कि राजग पूरी तरह एकजुट है.

गौरतलब है कि इस इफ्तार पार्टी में जनता दल (युनाइटेड) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) की तरफ से कोई भी बड़ा नेता शामिल नहीं हुआ. इस संबंध में पूछे जाने पर कुशवाहा ने कहा, “सभी नेताओं की अपनी व्यस्तता होगी, इसके राजनीतिक मतलब नहीं निकाले जाने चाहिए.”

राजद नेता तेजस्वी प्रसाद यादव ने रविवार को एक कार्यक्रम में भाजपा की सहयोगी पार्टी रालोसपा के प्रमुख और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा को रविवार को महागठबंधन में शामिल होने का निमंत्रण दिया था.

तेजस्वी यादव ने कहा था,”भाजपा की अगुवाई वाले राजग में उपेंद्र कुशवाहा की उपेक्षा हो रही है. भाजपा उनके साथ पिछले चार साल से सौतेला व्यवहार कर रही है. उनको बिहार में महागठबंधन में शामिल हो जाना चाहिए, जिसमें अब राजद, कांग्रेस और जीतनराम मांझी की पार्टी हिन्दुस्तान अवाम मोर्चा शामिल हैं.” तेजस्वी ने दो दिन पहले कहा था कि नेता के तौर पर नीतीश कुमार से ज्यादा जनाधार कुशवाहा का है.