अमेरिका की पाकिस्तान को लताड़, बिना किसी भेदभाव के सभी आतंकवादियों पर लो ‘एक्शन’

पाकिस्तानी सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने द्विपक्षीय संबंधों और अफगानिस्तान में राजनीतिक सुलह को लेकर फोन पर चर्चा की. विदेश विभाग की प्रवक्ता हीदर नॉर्ट ने कहा कि बुधवार को पोम्पियो द्वारा किए गए फोन कॉल में जिन विषयों पर चर्चा हुई, उनमें दक्षिण एशिया में रणनीति और बिना किसी भेदभाव के सभी आतंकवादियों और आतंकवादी संगठनों को निशाना बनाए जाने की जरूरत जैसे विषय शामिल रहे.

जियो न्यूज के मुताबिक, जब दोनों देशों ने संबंधित दूतावासों में काम कर रहे एक-दूसरे के राजनयिकों पर यात्रा प्रतिबंध लगाए थे, तो मई के बाद से यह पहली बार है कि अमेरिकी और पाकिस्तानी अधिकारियों को बीच उच्च स्तरीय वार्ता हुई है.

पिछले कुछ समय से दोनों देशों के बीच संबंधों में तनाव चल रहा है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के यह आरोप लगाने के बाद कि पाकिस्तान आतंकवादी संगठनों को सुरक्षित पनाहगाह मुहैया करा रहा है, ट्रंप प्रशासन ने पाकिस्तान को दी जाने वाली सहायता राशि रोक दी थी.

अमेरिका ने पाकिस्तान से हक्कानी नेटवर्क और आतंकवादी संगठन तालिबान के खिलाफ कार्रवाई करने की भी मांग की थी. हालांकि, पाकिस्तान ने इन सभी आरोपों को नकार दिया था और कहा कि वह आतंकवाद के खिलाफ युद्ध जारी रखेगा.