सपा ‘वन नेशन, वन इलेक्शन’ के लिए तैयार : अखिलेश यादव

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को कहा कि सपा वन नेशन, वन इलेक्शन (लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराना) के लिए पूरी तरह से तैयार है. अखिलेश ने भाजपा पर जमकर हमला बोला और कहा कि इस पार्टी ने लोगों के सपनों को तोड़ा है इसलिए अब जनता ने इनको जवाब देना शुरू कर दिया है.

अखिलेश यादव ने बुधवार को लखनऊ स्थित पार्टी कार्यालय पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा, “हम वन नेशन वन इलेक्शन के लिए तैयार हैं. 2019 में ही उत्तर प्रदेश का चुनाव भी करवा लो.”

उन्होंने कहा, “कैराना और नूरपुर उपचुनाव बहुत ही महत्वपूर्ण थे. इसमें जनता, किसान और गरीबों के फैसले ने समाजिकता, एकता और भाईचारे का संदेश दिया है. किसान जो मौजूदा सरकार में सबसे ज्यादा परेशान है, उसने संगठित होकर भाजपा को जवाब दिया है.”

कैराना की नवनिर्वाचित सांसद तबस्सुम हसन और नूरपुर के विधायक नईमुल हसन को बधाई देने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि इस उपचुनाव में जनता ने 2019 के लिए बड़ा संदेश दिया है. यह जनता के विश्वास की जीत है . अब सत्ता में बैठे लोगों को सोचना है कि किसान और गरीबों का जीवन कितना बेहतर हुआ है.

कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर के केशव मौर्य की जगह योगी को मुख्मयंत्री बनाए जाने वाले बयान पर अखिलेश यादव ने कहा कि यह बातें वह (राजभर) मीडिया से और हमसे क्यों कह रहे हैं. यह बातें उन्हें उनकी पार्टी द्वारा आयोजित बैठकों में कहनी चाहिए.

गौरतलब है कि ओमप्रकाश राजभर ने कहा था कि 2017 का विधानसभा चुनाव केशव प्रसाद मौर्य के नेतृत्व में लड़ा गया था. उसमें पिछड़ी जातियों के तमाम लोगों ने केशव प्रसाद मौर्य के नाम पर भाजपा को वोट दिया था. लेकिन, योगी को मुख्यमंत्री बना दिया गया. इसी के चलते पिछड़ी जाति के लोगों में गहरी नाराजगी है. राजभर ने कहा था कि पिछड़ों, दलितों और अल्पसंख्यकों को उनका हक नहीं मिल रहा है, जिससे लोगों में गुस्सा है.