21 सीटों के साथ मेघालय में अब कांग्रेस होगी सबसे बड़ी पार्टी, लेकिन…

विधानसभा सीटों के लिए हुए उप चुनाव में मेघालय की अंपाती सीट जीत कर कांग्रेस अब राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बन गई है. इसी साल फरवरी मार्च में हुए चुनाव में कांग्रेस और एनपीपी के बीच कांटे का मुकाबला रहा था. तब एनपीपी ने भाजपा और दूसरी पार्टियों के सहयोग से राज्य में सरकार बना ली थी. इस जीत के साथ ही कांग्रेस मेघालय में एनपीपी से आगे निकल गई है.

अब तक दोनों के पास 20-20 सीटें थीं. अंपाती सीट के लिए हुए चुनाव में कांग्रेस की उम्मीदवार मियानी डी शिरा ने नेशनल पीपुल्स पार्टी (एनपीपी) के उम्मीदवार जी मोमीन को 3191 वोटों के अंतर से हराया. ये सीट मियानी के पिता मुकुल संगमा के छोड़ने के कारण ही खाली हुई थी. अंपाती विधानसभा क्षेत्र मेघालय में गारो हिल्स की चर्चित सीट रहा है. यहां हो रहे उपचुनाव में तीन उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे थे.

मेघालय के पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा विधानसभा चुनाव में अंपाती और सोंगसाक दो सीटों से जीते थे. इसके बाद उन्होंने अंपाती सीट छोड़ दी थी. इस सीट से उनकी बेटी कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ीं थीं. इस सीट के लिए सोमवार को हुए मतदान में 90.55 प्रतिशत वोटिंग हुई थी. ये सबसे ज्यादा वोटिंग थी. इसके साथ देश की अन्य विधानसभा सीटों के लिए वोटिंग हुई थी, लेकिन किसी और सीट पर इतनी वोटिंग नहीं हुई थी. अंपाती क्षेत्र में ज्‍यादातर आबादी गारो लोगों की है. इस सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री मुकुल संगमा लगातार 6 बार चुनाव जीत चुके हैं.

मेघालय में अब कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी होगी. लेकिन वह सत्ता में नहीं होगी. कांग्रेस के पास अब 21 सीटें हो गई हैं. वहीं नेशनल पीपुल्स पार्टी के पास 20 सीटें हैं. चुनाव में उसे 19 सीटें ही मिली थीं. लेकिन बाद में उसे एक सीट पर जीत मिलने से उसकी संख्या कांग्रेस के बराबर हो गई थी. लेकिन अब कांग्रेस 21 सीट के साथ सबसे बड़ी पार्टी हो गई है. लेकिन सत्ता उसके पास नहीं होगी.