सरकार का नया फार्मूला, अब आप खरीद पाएंगे फिक्सड प्राइस पर पेट्रोल-डीज़ल

सांकेतिक फोटो

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने भारतीय कमोडिटी एक्सचेंज (ICEX)को पेट्रोल और डीजल का वायदा कारोबार (फ्यूचर) लॉन्च करने की अनुमति दे दी है. ICEX के MD संजीत प्रसाद ने कहा, ‘हमें मंत्रालय से इस बारे में नो ऑब्जेक्शन मिल चुका है.’

हालांकि ICEX को फ्यूचर कारोबार लॉन्च करने के लिए सेबी से हरी झंडी लेनी होगी. प्रसाद ने कहा, ‘अगर सेबी फ्यूचर कारोबार के लिए हरी झंडी देती है तो एक्सचेंज एक दिन के अंदर इसे लॉन्च कर देगा.’

क्या है वायदा?
फ्यूचर या वायदा एक फ़ाइनैंशल कॉन्ट्रैक्ट होता है. इसमें खरीदार असेट खरीद सकता है या सेलर पूर्वनिर्धारित फ्यूचर डेट और दाम पर इसे बेच सकता है.

उपभोक्ता को कैसे होगा फायदा?
पेट्रोल और डीजल का फ्यूचर कॉन्ट्रैक्ट लॉन्च होने पर उपभोक्ता इसे फिक्सड प्राइस पर खरीद सकता है और फ्यूचर डेट में इसकी डिलीवरी ले सकता है. मतलब यह कि अगर उपभोक्ता एक तय कीमत पर पेट्रोल और डीजल खरीदता है और उसकी डिलीवरी एक महीने बाद चाहता है तो उसे उसी कीमत पर डिलीवरी मिलेगी भले डिलीवरी वाले दिन पेट्रोल या डीजल की कीमतें उसकी खरीद रेट से ज्यादा क्यों न हो.

इस तरह पेट्रोल-डीजल की फ्यूचर ट्रेडिंग के कारण वैश्विक कीमतों में उतार-चढ़ाव का असर यहां नहीं पड़ेगा. बता दें कि जून 2017 से भारत की ऑयल कंपनियां पेट्रोल और डीजल की कीमतें रोज बदलती रहती हैं.