यूपी : 11 बजे तक कैराना में 21 फीसदी, नूरपुर में 22 फीसदी मतदान

उत्तर प्रदेश के शामली जिले की कैराना लोक सभा सीट व नूरपुर विधानसभा सीट उपचुनावों के लिए सुबह सात बजे से मतदान जारी है. इस बीच कैराना व नूरपुर में कई जगहों पर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी की शिकायतें सामने आई है.

ईवीएम में गड़बड़ी से कई स्थानों पर मतदान प्रभावित हुआ है. समाजवादी पार्टी (सपा) ने जानबूझकर ईवीएम मशीने खराब किए जाने का आरोप लगाया है.

निर्वाचन आयोग के मुताबिक, सुबह 11 बजे तक बिजनौर जिले की नूरपुर विधानसभा सीट पर 22 फीसदी मतदान जबकि कैराना लोकसभा सीट पर 21.34 प्रतिशत मतदान होने की सूचना है.

ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर मतदाताओं ने आरोप लगाया है कि इस गड़बड़ी की वजह से शामली के चार बूथों पर आठ बजे तक मतदान शुरू नहीं हो पाया.

कैराना लोकसभा सीट से राष्ट्रीय लोकदल की उम्मीदवार तब्बसुम हसन ने अपना वोट डाला. इस दौरान उन्होंने कहा,”हर जगह मशीनों से छेड़छाड़ की जा रही है. मुस्लिम और दलित बहुल इलाकों में खराब ईवीएम नहीं बदले गए. वे सोचते हैं कि इस तरह से चुनाव जीत जाएंगे, लेकिन यहां ऐसा नहीं होने जा रहा.”

नकुड़ के पूर्व माध्यमिक विद्यालय नंबर 2 में बनाए गए बूथ नंबर 9 की मशीन खराब हो गई. इस वजह से वोटिंग बाधित रही. लगभग एक घंटा इंतजार करने के बाद दर्जनों मतदाता वापस घर लौट गए.

काशीपुर गांव में बूथ नंबर 296 पर मशीन खराबी के चलते मतदान रुक गया. नानौता के ओलरा गांव में बूथ नंबर 346 और ठसका गांव में बूथ नंबर 380 पर मशीन खराब होने से मतदान रुक गया.

सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया, “नूरपुर में 140 जगहों पर ईवीएम खराब होने की सूचनाएं मिली हैं. इसी तरह कैराना में भी कई जगहों से शिकायतें आई हैं. यह सब इसलिए हो रहा है क्योंकि भाजपा गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीटों पर हुई हार का बदला लेना चाहती है.”