ट्रंप ने रद्द की उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग उन से प्रस्तावित शिखर वार्ता, धमकी भी दी

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने उत्‍तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन से अपनी प्रस्‍तावित शिखर वार्ता को रद कर दिया है. व्‍हाइट हाउस ने एक पत्र जारी कर इस बात की जानकारी दी है. बता दें कि ट्रंप और किम के बीच 12 जून को ऐतिहासिक वार्ता सिंगापुर में होने वाली थी.

व्‍हाइट हाउस ने एक पत्र जारी किया, जो डोनाल्‍ड ट्रंप ने किम जोंग को लिखा है. इसमें ट्रंप ने लिखा, ‘मुझे लगता है कि इस लंबी योजनाबद्ध बैठक के लिए अभी समय अनुचित है.’ डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि किम जोंग उन के हालिया बयान से पूरा माहौल बिगड़ गया है. ऐसे में बातचीत संभव नहीं है.

किम जोंग-उन को लिखे पत्र में डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा, ‘मैं 12 जून को होने वाली शिखर वार्ता के लिए बेहद उत्‍साहित था. लेकिन मौजूदा समय में मुझे नहीं लगता कि वार्ता के लिए यह समय उचित है. आपके हालिया बयान और गुस्‍से से पूरा माहौल बिगड़ गया. इस दौरान आपने अपने परमाणु क्षमताओं का जिक्र किया.’ इस पत्र में ट्रंप ने उत्‍तर कोरिया द्वारा बंधियों को छोड़े जाने का जिक्र करते हुए किम की तारीफ भी की, जो अमेरिका में पहुंच चुके हैं. ट्रंप उम्‍मीद जताई कि आने वाले समय में बेहतर माहौल के बीच दोनों नेता एक दिन जरूर वार्ता करेंगे. साथ की किम को कहा कि अगर वह कभी बात करना चाहें, तो बिना झिझक के उन्‍हें फोन या पत्र लिख सकते हैं.

डोनाल्‍ड ट्रंप ने वार्ता रद करने का फैसला ऐसे समय में लिया है, जब उत्‍तर कोरिया ने अपने परमाणु हथियारों को नष्‍ट करने की दिशा में एक कदम और आगे बढ़ा दिया है. दक्षिण कोरियाई मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, उत्‍तर कोरिया ने गुरुवार को परमाणु परीक्षणों के लिए इस्‍तेमाल होने वाली एक सुरंग को नष्‍ट कर दिया. बता दें कि पुंग्ये-री में उत्तर कोरिया ने अपने सभी छह परमाणु परीक्षणों को अंजाम दिया था. उसने बीते साल सितंबर में छठी बार परमाणु परीक्षण किया था. उसने इसे हाइड्रोजन बम का परीक्षण करार दिया था.

उत्‍तर कोरिया और अमेरिका के राष्‍ट्राध्‍यक्षों के बीच जब से वार्ता का समय तय हुआ, तब से ही इसके टलने की अटकलें लगाई जा रही थीं. इस दौरान जब किम जोंग ने चीन का दौरा किया, तो ट्रंप की भौंह तन गईं. इसके बाद ट्रंप ने कहा था कि जब से किम जोंग और चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग की मुलाकात हुई है, तब से उत्‍तर कोरिया के तेवर बदल गए हैं. ट्रंप ने कहा, ‘शी चिनफिंग बहुत अच्छे पोकर प्लेयर हैं, मैं किसी पर आरोप नहीं लगा रहा हूं. लेकिन ये सच है कि चिनफिंग से दूसरी मुलाकात के बाद ही किम के रुख में बदलाव हुआ है.’ इसके बाद दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन का स्वागत करते हुए ट्रंप ने व्हाइट हाउस में कहा कि उत्तर कोरिया को शिखर वार्ता के लिए शर्तें पूरी करनी होगी और अगर ऐसा नहीं हुआ तो यह वार्ता टल सकती है.