पुरी-हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस के 33 यात्री नाश्ता खाने से बीमार

कोलकाता जा रही 12278 पुरी-हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस में बुधवार को नाश्ता खाने के बाद करीब 33 यात्री कथित तौर पर गंभीर रूप से बीमार हो गए. यह जानकारी रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने दी. बीमार यात्रियों में से 14 को बेचैनी और उल्टी की शिकायत के कारण थोड़ी देर के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया.

दक्षिण पूर्वी रेलवे के मुख्य जन संपर्क अधिकारी संजय घोष ने बताया, “ट्रेन के पश्चिम मिदनापुर जिले के बेल्दा स्टेशन पहुंचने पर शुरुआत में दो यात्रियों ने उल्टी और बेचैनी की शिकायत की. यात्रियों को देखने के लिए जल्द ही एक डॉक्टर बुलाया गया. बाद में 15 यात्रियों में इसी प्रकार की शिकायत पाई गई.”

खगड़पुर स्टेशन पर ट्रेन को करीब एक घंटा रोककर पीड़ित यात्रियों का उपचार किया गया. पीड़ित यात्रियों ने बताया कि भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) द्वारा पड़ोसे गए भोजन खाने के बाद वे बीमार पड़ गए. एक यात्री ने बताया कि भुवनेश्वर से ट्रेन के प्रस्थान करने के बाद पड़ोसे गए आमलेट और ब्रेड खाने के बाद हम अस्वस्थ महसूस करने लगे.

घोष ने बताया कि आइआरसीटी के भोजन के नमूने जांच के लिए भेजा गया है और रिपोर्ट आने बाद ही इस संबंध में कुछ बताया जा सकता है. उन्होंने बताया कि ट्रेन के करीब 500 यात्रियों को भी वही भोजन पड़ोसा गया था. मगर खराब खाना खाने से बीमार होने की शिकायत कुछ ही लोगों ने की.