पूजा भट्ट राजनीतिक हालात पर दिल्ली के पादरी की टिप्पणी से सहमत

अभिनेत्री व फिल्म निर्माता पूजा भट्ट ने बुधवार को कहा कि वह नई दिल्ली के प्रधान पादरी (आर्कबिशप) अनिल जोसेफ क्यूटो के बयान से सहमत हैं कि देश में ‘अशांत राजनीतिक माहौल’ है. उन्होंने यह भी कहा कि देश का ‘लोकतांत्रिक व नैतिक तानाबाना’ टूट रहा है.

आर्कबिशप ने राष्ट्रीय राजधानी के पादरियों व गिरजाघरों को अपने 8 मई को लिखे पत्र में देश में साल भर तक प्रार्थना अभियान आयोजित करने की अपील की थी, जिससे 2019 के आम चुनावों से पहले देश के लोकतांत्रिक सिद्धांतों व धर्मनिरपेक्ष तानेबाने की रक्षा हो सके.

पूजा भट्ट ने कहा, “मुझे आर्कबिशप क्यूटों के पत्र में कुछ भी गलत नहीं दिखाई देता और इस पर बिना सोचे प्रतिक्रिया देना गलत है.”

पूजा ने ट्वीट किया, “हमारे देश का लोकतांत्रिक और नैतिक तानाबाना टूट रहा है. समय है कि हम इस पर ध्यान दें. निर्धारित प्रवृत्तियों से अलग बातें बोलने पर चुप करा देने की कोशिश खत्म होनी चाहिए.”

केंद्र ने मंगलवार को कहा कि भारत अल्पसंख्यकों के लिए सुरक्षित है, जबकि भारतीय जनता पार्टी ने दिल्ली के आर्कबिशप पर हमला करते हुए कहा कि ‘किसी को भी धर्म के आधार पर लोगों को लामबंद करने की बात नहीं करनी चाहिए.’