आतंकी मुठभेड़ में घायल उत्तराखंड का लाल शहीद, आज पहुंचेगा पार्थिक शरीर

उत्तराखंड का एक और लाल देश के लिए शहीद हो गया. 10 अप्रैल को आतंकियों के साथ मुठभेड़ में गंभीर रूप से जख्मी देहरादून निवासी नायक दीपक नैनवाल ने रविवार तड़के अंतिम सांस ली.

उनका इलाज पुणे स्थित सैन्य अस्पताल में चल रहा था. शहीद नैनवाल का शव सोमवार को हर्रावाला स्थित घर पर पहुंचेगा. 35 वर्षीय दीपक की छह वर्ष की बेटी और चार साल का बेटा है. मूलरूप से चमोली जिले के कांचुला (कर्णप्रयाग) निवासी शहीद दीपक नैनवाल का परिवार हर्रावाला की सिद्धपुरम कॉलोनी में रहता है.

आतंकियों से मुठभेड़ में उन्हें तीन गोलियां लगी थीं. ऑपरेशन में दो गोलियां निकाल ली गई थीं, लेकिन गर्दन की हड्डी में धंसी गोली को निकालने में चिकित्सक कामयाब नहीं हो पाए. पिता चक्रधर नैनवाल और दीपक की पत्नी ज्योति भी पुणे में ही हैं.

परिवारीजनों को ढांढ़स बंधाने हर्रावाला के पूर्व प्रधान मूलचंद्र शीर्षवाल समेत अन्य जनप्रतिनिधि उनके घर पहुंचे. शहीद दीपक का सोमवार या मंगलवार को सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार हो सकता है.