आईपीएल-11 : ऋषभ पंत के शतक पर भारी पड़ी धवन-विलियमसन की शतकीय साझेदारी

दिल्ली डेयरडेविल्स के बल्लेबाज ऋषभ पंत (नाबाद 128) के पहले आईपीएल शतक पर शिखर धवन (नाबाद 92) और कप्तान केन विलियमसन (नाबाद 83) ने दूसरे विकेट के लिए 176 रनों की शानदार शतकीय साझेदारी कर गुरुवार को पानी फेरते हुए फिरोजशाह कोटला मैदान पर खेले गए मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को नौ विकटों से जीत दिलाई.

इस हार के साथ दिल्ली डेयरडेविल्स के इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण के प्लेऑफ में जाने की संभावनाएं लगभग खत्म हो गई हैं.

दिल्ली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पंत की एकतरफा पारी के दम पर 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 187 रन बनाए थे. इस लक्ष्य को हैदराबाद ने महज एक विकेट खोकर 18.5 ओवरों में हासिल कर लिया.

लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद ने एलेक्स हेल्स (14) के रूप में एक मात्र विकेट खोया.वो 15 रनों के कुल स्कोर पर हर्षल पटेल की गेंद पर पगबाधा आउट दे दिए गए.

धवन ने इसके बाद कप्तान विलियमसन के साथ बेहतरीन शतकीय साझेदारी कर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया.

इन दोनों ने पावरप्ले में ही 52 रन बनाते हैदराबाद को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया था. धवन ने 30 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया. यह आईपीएल के इस सीजन में उनका दूसरा अर्धशतक था. उन्होंने अपनी नाबाद पारी में 50 गेंदों का सामना करते हुए नौ चौके और चार छक्के लगाए.

विलियमसन ने इस मैच के साथ ही इस सीजन का छठा अर्धशतक पूरा किया.उन्होंने 53 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके और दो छक्के लगाए.

इससे पहले, पंत ने अभी तक मजबूत माने जा रहे हैदराबाद के गेंदबाजी आक्रामण की बक्खियां उधेड़ दीं और विकटों के गिरते सिलसिले के बीच एक छोर संभाले रखते हुए ताबड़तोड़ पारी खेली. इसी के साथ पंत ने आईपीएल में अपने एक हजार रन भी पूरे कर लिए हैं. इस सीजन में पंत के अभी तक खेले 11 मैचों में 521 रन हो गए हैं.

उनके अलावा दिल्ली का कोई और बल्लेबाज कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सका.पारी की शुरुआत करने आए पृथ्वी शॉ (9) और जेसन रॉय (11) ने 21 रन ही जोड़े थे कि शाकिब अल हसन ने पृथ्वी को शिखर धवन के हाथों कैच आउट करा दिल्ली को पहला झटका दिया.

इसके बाद शाकिब ने जेसन को भी पवेलियन का रास्ता दिखाया.जेसन विकेट के पीछे खड़े श्रीवत्स गोस्वामी के हाथों लपके गए.शाकिब ने एक ही ओवर में यह दोनों विकेट लिए.

दिल्ली की टीम ने पावरप्ले में दो विकेट के नुकसान पर 36 रन जोड़े. पृथ्वी और जेसन के पवेलियन लौटने के बाद टीम की पारी संभालने आए ऋषभ और कप्तान श्रेयस अय्यर (3) ने 22 रन जोड़कर टीम का स्कोर 43 तक पहुंचाया. इसी स्कोर पर श्रेयस अपनी गलती के कारण संदीप की गेंद पर रन आउट हो गए.

दिल्ली अपनी पारी में पहले 10 ओवरों में केवल 52 रन ही बना पाई थी. इसके बाद ऋषभ ने हर्षल (24) के साथ मिलकर टीम की बिखरती पारी को संभालने की कोशिश की और सफल भी हुए. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 55 रनों की अर्धशतकीय साझेदारी कर टीम को 98 के स्कोर तक पहुंचाया. यहां एक बार फिर तालमेल की कमी के कारण हर्षल भी श्रेयस की तरह ही रन आउट हो गए.

ऋषभ एक छोर पर दिल्ली की पारी को संभाले हुए खड़े थे. ऋषभ ने 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर चौका मारने के साथ ही अपने आईपीएल करियर का पहला शतक लगाया. उन्होंने 56 गेंदों में 13 चौके और चार छक्के लगाए. वह आईपीएल में शतक लगाने वाले दूसरे सबसे युवा बल्लेबाज हैं.

हर्षद के आउट होने के बाद इस सीजन में खराब फॉर्म में चल रहे ग्लेन मैक्सवेल (9) ऋषभ का साथ देने आए. मैक्सवेल ने ऋषभ के साथ पांचवें विकेट के लिए 63 रन जोड़े और टीम को 161 के स्कोर तक पहुंचाया. इसी स्कोर भुवनेश्वर कुमार ने मैक्सवेल को पवेलियन भेजा.

मैक्सवेल लंबा शॉट मारने की कोशिश में बाउंड्री पर खड़े एलेक्स हेल्स के हाथों लपके गए.

पंत ने भुवनेश्वर द्वारा फेंके गए आखिरी ओवर में 26 रन जोड़े और दिल्ली को 187 रनों के कुल स्कोर तक पहुंचाया. ऋषभ ने 63 गेंदों का सामना किया और 15 चौके और सात छक्के लगाए.

इस पारी में हैदराबाद के शानदार गेंदबाजों में शुमार राशिद खान एक भी विकेट नहीं ले पाए.शाकिब ने सबसे अधिक दो विकेट लिए, वहीं भुवनेश्वर को एक सफलता मिली.