बेंगलुरू : मतदाता पहचान पत्र बरामद होने पर चुनाव आयोग ने दर्ज किया मामला

निर्वाचन आयोग ने बुधवार तड़के दक्षिणी उपनगर के राजराजेश्वरी नगर विधानसभा क्षेत्र के एक फ्लैट से 9,746 मतदाता पहचान पत्र मिलने पर प्राथमिकी दर्ज की है. राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी संजीव कुमार ने मंगलवार देर रात यहां संवाददाताओं को बताया, “राजराजेश्वरी नगर विधानसभा क्षेत्र के एक फ्लैट से करीब 9,746 मतदाता पहचान पत्र मिलने पर प्राथमिकी दर्ज की गई है. इसके साथ ही मतादाता सूची में नाम दर्ज कराने के लिए करीब एक लाख पावती पर्चियां भी मिली हैं.”

कुमार ने कहा कि प्राथमिक जांच में मतदाता पत्रों को असली पाया गया है जबकि पर्चियों के असली या नकली होने का पता जांच के माध्यम से लगाया जाएगा. फ्लैट से पांच लैपटॉप और एक प्रिंटर भी बरामद किया गया है.

उन्होंने कहा, “इस मामले में आगे की जांच पर ईसी द्वारा बारीकी से नजर रखी जाएगी.” कुमार ने कहा, “चुनाव आयोग के तीन पर्यवेक्षक विधानसभा के इस फ्लैट का दौरा कर रहे हैं. इस विधानसभा में कुल 4,35,439 मतदाता हैं.”

कुमार के साथ जिला चुनाव अधिकारी और शहर के नागरिक निकाय आयुक्त एम. महेश्वर राव, शहर के पुलिस आयुक्त टी. सुनील कुमार ने उस स्थल का दौरा किया, जहां से मतदाता पहचान पत्र बरामद हुए थे.

कांग्रेस पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि जिस फ्लैट से मतदाता पत्र बरामद हुए हैं वह भाजपा नेता से संबंधित है.

सुरजेवाला ने बुधवार तड़के यहां प्रेस वार्ता में आरोप लगाया, ” भाजपा नाटक कर रही है, यह फ्लैट उनकी अपनी नेता मंजुला नंजामारी से संबंधित है. उन्होंने अपने बेटे को यह फ्लैट किराए पर दिया हुआ था, जो 2015 में भाजपा की टिकट पर बेंगलुरू नगर निकाय चुनाव लड़ चुका है. फ्लैट पर छापा न तो पुलिस और न ही ईसी ने मारा बल्कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने वहां पर छापेमारी की.”

वहीं दूसरी तरफ विपक्षी भाजपा ने इसे कांग्रेस द्वारा चुनाव में धोखाधड़ी करने की साजिश करार देते हुए चुनाव आयोग से क्षेत्र में 12 मई को होने वाले चुनाव को रद्द करने का आग्रह किया है.

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री और चुनावी राज्य के प्रदेश प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर ने ट्वीट कर कहा, “हजारों की संख्या में मिले फर्जी मतदाता पत्रों के मद्देनजर भाजपा राजराजेश्वरी नगर में चुनाव को रद्द करने की मांग करती है. कांग्रेस अपनी करारी हार को देखते हुए चुनाव में धोखाधड़ी करने की साजिश कर रही है.”