आईपीएल-11 : रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने दिल्ली को 7 विकेट से हराया

शनिवार को इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में खेले गए रोमांचक मुकाबल में मेजबान सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्ली डेयरडेविल्स को सात विकेट से हरा दिया.

अपनी नपी-तुली गेंदबाजी के लिए मशहूर हैदराबाद ने एक बार फिर शानदार प्रदर्शन किया और पहली पारी खेलने उतरी दिल्ली को 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 163 रनों पर ही सीमित कर दिया. इस लक्ष्य को उतार-चढ़ाव भरे इस मैच में हैदराबाद ने एक गेंद शेष रहते हुए तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया.

अंत के दो ओवरों में हैदराबाद को जीत के लिए 28 रनों की दरकार थी. युसूफ पठान मे 19वें ओवरें में एक चौके और एक छक्के की मदद से 14 रन जोड़े और फिर अंतिम ओवर में भी एक चौके और एक छक्के की मदद से 14 रन बनाते हुए हैदराबाद को जीत दिलाई.

युसूफ ने 12 गेंदों में दो छक्के और दो चौकों की मदद से नाबाद 27 रनों की पारी खेली. कप्तान केन विलियमसन भी 30 गेंदों में सिर्फ एक छक्का मार 32 रन बनाकर नाबाद लौटे.

इस जीत के बाद हैदराबाद एक बार फिर पहले स्थान पर वापस आ गई है.

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी मेजबान टीम को शुरुआत अच्छी मिली. एलेक्स हेल्स (45) और शिखर धवन (33) ने पहले विकेट के लिए नौ ओवरों में 76 रन जोड़े. दिल्ली के अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा ने हेल्स को बोल्ड कर इस साझेदारी को तोड़ा. हेल्स ने 32 गेंदों की पारी में तीन चौके और तीन छक्के लगाए.

10 रन बाद मिश्रा ने धवन को भी बोल्ड कर हैदराबाद को दूसरा झटका दिया. धवन ने 30 गेंदों का सामना किया और दो चौकों के अलावा एक छक्का मारा.

यहां से विलियमसन और मनीष पांडे (21) की जोड़ी ने टीम को मैच में बनाए रखा और तीसरे विकेट के लिए 46 रनों की साझेदारी की. पांडे को ल्याम प्लंकट ने पृथ्वी शॉ के हाथों 18वें ओवर की पहली गेंद पर कैच करा मेजबान टीम को तीसरा झटका दिया.

उनके स्थान पर आए युसूफ पर बड़ी जिम्मेदारी थी जिसे उन्होंने बखूबी निभाया और टीम को जीत दिलाकर ही लौटे. इससे पहले, युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ (65) के अर्धशतक के बावजूद हैदराबाद ने दिल्ली को बड़ा स्कोर बनाने से रोक दिया. पृथ्वी के अलावा दिल्ली के कप्तान श्रेयस अय्यर ने 44 रनों की पारी खेली.

दिल्ली ने अपनी सलामी जोड़ी में बदलाव किया और कोलिन मुनरो के स्थान पर ग्लेन मैक्सवेल (2) को पृथ्वी के साथ पारी की शुरुआत करने भेजा. मैक्सवेल सफल नहीं रहे और दूसरे ओवर में नौ के कुल स्कोर पर रन आउट हो गए.

यहां से अय्यर और शॉ ने अपने अंदाज में बल्लेबाजी जारी रखते हुए हैदराबाद के गेंदबाजों को परेशान किया. दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 86 रनों की साझेदारी करते हुए टीम को अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया. पृथ्वी 95 के कुल स्कोर पर राशिद खान की गेंद पर सिद्धार्थ कौल के हाथों लपके गए. उन्होंने अपनी पारी में महज 36 गेंदों का सामना करते हुए छह चौके और तीन छक्के लगाए.

अय्यर अपने अर्धशतक से छह रन दूर थे. कौल की गेंद को सीमा रेखा के पार भेजने के प्रयास में वह शिखर धवन के हाथों में गेंद खेल बैठे. उन्होंने 36 गेंदों में 44 रन बनाए जिसमें तीन चौके और दो छक्के शामिल हैं.

यहां से दिल्ली की पारी लड़खड़ा गई और उसे रनगति में जो तेजी की आवश्यकता थी वह मेजबान टीम के गेंदबादों ने हासिल नहीं करने दी. राशिद ने ऋषभ पंत (18) को लय में आने से पहले पगबाधा आउट कर दिल्ली को पांचवां झटका दिया. उनसे पहले इस सीजन में अपना पहला मैच खेल रहे नमन ओझा एक रन बनाकर रन आउट हो गए थे.

अंत में हरफनमौला खिलाड़ी विजय शंकर ने एक चौके और एक छक्के की मदद से 23 रन बनाकर दिल्ली को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. हैदराबाद के लिए राशिद खान ने दो विकेट लिए. सिद्धार्थ कौल को एक विकेट मिला.