आईपीएल-11 : सूर्यकुमार, क्रुणाल ने दिलाई मुंबई को जरूरी जीत,प्वाइंट्स टेबल में 5वें नंबर पर पहुंची मुंबई

शुक्रवार को मुंबई इंडियंस ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में किंग्स इलेवन पंजाब को उसके दूसरे घर होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए मैच में रोमांचक मुकाबले में छह विकेट से मात देकर अपनी प्लेऑफ में जाने की उम्मीदों को जिंदा रखा है.

बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी पंजाब ने क्रिस गेल (50) के आईपीएल में 25वें अर्धशतक के दम पर निर्धारित 20 ओवरों में छह विकेट होकर 174 रन बनाए थे. मुंबई ने इस लक्ष्य को एक ओवर पहले ही चार विकेट खोकर हासिल कर लिया.

मुंबई की जीत के हीरो सलामी बल्लेबाज सूर्य कुमार यादव (57) और क्रुणाल पांड्या रहे. मुंबई जब संकट में थी तब पांड्या ने महज 12 गेंदों में चार चौके और दो छक्कों की मदद से नाबाद 31 रन बनाते हुए टीम को जीत दिलाई. इसमें कप्तान रोहित शर्मा ने उनका बखूबी साथ दिया. कप्तान ने 15 गेंदों पर दो छक्के और एक चौका मार उपयोगी 24 रन बनाए और टीम को जीत दिला कर नाबाद पवेलियन लौटे.

175 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुंबई को अच्छी शुरुआत की जरुरत थी. सूर्यकुमार इस आईपीएल में फॉर्म में हैं और उन्होंने इस मैच में भी बल्ले से बेहतरीन पारी खेलते हुए 42 गेंदों में छह चौके और तीन छक्कों की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली, लेकिन उनके सलामी जोड़ीदार इविन लुइस 10 रनों के निजी स्कोर पर मुजीब उर रहमान की गेंद पर पवेलियन लौट लिए. मुंबई का पहला विकेट छठे ओवर की दूसरी गेंद पर 38 के कुल स्कोर पर गिरा.

अर्धशतक पूरा करने के कुछ देर बाद सूर्यकुमार भी मार्कस स्टोइनिस का शिकार हो गए. सूर्यकुमार का विकेट 80 के कुल स्कोर पर गिरा.

इन-फॉर्म बल्लेबाज के आउट होने के बाद मुंबई की पारी लड़खड़ा गई. ईशान किशन बड़ा शॉट मारने के प्रयास में मुजीब की गेंद पर 100 के कुल स्कोर पर बोल्ड हो गए .

उम्मीदें हार्दिक पांड्या (23) से थीं, लेकिन एक बार फिर यह स्टार हरफनमौला खिलाड़ी अपनी टीम को निराशा के सिवाए कुछ नहीं दे सका. एंड्रयू टाई की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में हार्दिक लाइन से चूके और बोल्ड होकर मुंबई को न उम्मीद कर गए.

यहां से कप्तान और क्रुणाल ने मोर्चा संभाला और ताबड़तोड़ तरीके से चौके और छक्कों की बारिश शुरू कर दी. दोनों ने महज 21 गेंदों में पांचवें विकेट के लिए 56 रनों की साझेदारी कर टीम को सीजन की तीसरी जीत दिलाई.

इससे पहले, मुंबई के कप्तान रोहित ने टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनी. उनके गेंदबाज एक लिहाज से गेल को शांत रखने में कामयाब रहे. गेल उस अंदाज में नहीं दिखे जो इस मैच से पहले उन्होंने दिखाया था. गेल ने 40 गेंदों का सामना किया और दो छक्के व चार चौके लगाए.

उम्मीद के मुताबिक पंजाब को अच्छी शुरुआत मिली. गेल और लोकेश राहुल की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 6.4 ओवरों में 54 रन जोड़े. हालांकि इस सलामी जोड़ी ने स्वभाव के विपरित थोड़ी धीमी गति से रन जोड़े.

मिशेल मैक्लेघन, जसप्रीत बुमराह और हार्दिक के विफल होने के बाद रोहित ने लेग स्पिनर मयंक मारकंडे को गेंद दी. राहुल, मयंक की एक गुगली को डीप मिडविकेट पर खड़े ज्यां पॉल ड्यूमिनी के हाथों में खेल बैठे. राहुल ने 20 गेंदों में एक चौके और दो छक्कों की मदद से 20 रन बनाए.

गेल ने बेन कटिंग द्वारा फेंके गए 12वें ओवर की पहली गेंद पर एक रन लेकर आईपीएल में अपना 25वां अर्धशतक पूरा किया, लेकिन तीन गेंद पर बाद वह कटिंग की गेंद पर छक्का मारने के प्रयास में सूर्यकुमार को कैच दे बैठे. गेल का विकेट 88 के कुल स्कोर पर गिरा.

युवराज सिंह ने 14 गेंदों में 14 रन बनाए. वह 96 रनों के कुल स्कोर पर रन आउट होकर पवेलियन लौटे. करुण नायर अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे. उन्होंने दो शानदार छक्के भी जड़े. मैक्लेघन की गेंद पर उनकी कोशिश एक और बड़ा शॉट खेलने की थी, लेकिन गेंद सीमा रेखा से पहले ही हार्दिक के हाथों में जा समाई. नायर ने 12 गेंदों का सामना करते हुए 23 रन बनाए.

अक्षर पटेल 13 रनों के निजी स्कोर पर बुमराह का शिकार बने. मयंक अग्रवाल का बल्ला सिर्फ 11 रन ही पंजाब के खाते में डाल सका.

अंत में मार्कस स्टोइनिस ने 15 गेंदों में दो चौके और दो छक्कों की मदद से 29 रनों की पारी खेलकर टीम को 174 के कुल स्कोर तक पहुंचाया. मुंबई के लिए मैक्लेघन, बुमराह, हार्दिक , मयंक, कटिंग ने एक-एक विकेट लिया.