शनिवार को शनि देव को क्यों चढ़ाते हैं तेल, जानिए

शनिवार का दिन सूर्य पुत्र शनिदेव को समर्पित है. शनि का नाम सुनते ही लोगों की रूह कांपने लगती है. कर्मफलदाता शनि मनुष्य को उसकी गलती का दंड अवश्य देते हैं.

शनिदेव एक ऐसे देवता हैं जिनकी पूजा प्रायः मनुष्य डर की वजह से करते हैं. शनिदेव को प्रसन्न करने के लिए उन्हें तेल चढ़ाया जाता है. शनिवार के दिन शनिदेव को तेल अर्पित करने के पीछे बहुत सारे कारण हैं लेकिन पुराणों में जो कथा आती है उसकी सत्यता से इनकार नहीं किया जा सकता है.

इसलिए चढ़ाते हैं शनिदेव को तेल
दरअसल पुराणों में शनिदेव को तेल चढ़ाने के विषय में एक कथा का वर्णन मिलता है. पुराणों की कथा के अनुसार त्रेता युग में शनिदेव को अपनी शक्ति पर अत्यधिक घमंड था.

शनिदेव अपनी शक्ति के घमंड की वजह से हनुमान जी से लड़ाई करने को आतुर हो गए. फिर क्या था शनिदेव और महाबली हनुमानजी के बीच लड़ाई होने लगी. लड़ाई के दौरान शनिदेव बेहोश हो गए.

फिर हनुमानजी ने शनिदेव को तेल लगाने को दिया. ऐसा कहा जाता है कि कि शनिदेव की शारीरिक पीड़ा तेल लगाने से खत्म हुई. इसलिए ऐसी मान्यता है कि शनिवार के दिन शनिदेव को तेल अर्पण करने से मनुष्य की सारी पीड़ा खत्म हो जाती है.